लाइव टीवी

कमलेश तिवारी हत्याकांड: हिन्दू महासभा के उपाध्यक्ष बोले- इंतजार कर रहे हैं कि सरकार इसमें क्या करती है?

Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: October 19, 2019, 5:55 PM IST
कमलेश तिवारी हत्याकांड: हिन्दू महासभा के उपाध्यक्ष बोले- इंतजार कर रहे हैं कि सरकार इसमें क्या करती है?
हिन्दू महासभा का ऐलान

अखिल भारत हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) के उपाध्यक्ष ने कहा कि कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) के परिजनों की भरण पोषण की व्यवस्था होनी चाहिए.

  • Share this:
मेरठ. कमलेश तिवारी हत्याकांड (Kamlesh Tiwari Murder case) पर बयानबाजियों का दौर जारी है. इसी कड़ी में मेरठ (Meerut) में शनिवार को अखिल भारत हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) के उपाध्यक्ष का सनसनीखेज़ बयान आया है. अखिल भारत हिन्दू महासभा के उपाध्यक्ष पंडित अशोक शर्मा का कहना है कि देख रहे हैं और इंतजार कर रहे हैं कि सरकार इसमें क्या करती है, नहीं तो हिन्दू महासभा अपने कार्यकर्ताओं का बदला लेने में सक्षम है.

कमलेश की सुरक्षा में रखे थे कमजोर गार्ड्स
पंडित अशोक शर्मा ने कहा कि हम क्या करेंगे, ये भविष्य के गर्भ में है. उन्होंने कमलेश तिवारी की सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवाल उठाए और कहा कि कमेलश तिवारी की सिक्योरिटी में गार्ड भी ऐसे रखे गए थे, जो ठीक से खड़े तक नहीं हो पा रहे थे. ऐसे में उनकी सुरक्षा व्यवस्था कैसी थी, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है. पंडित अशोक शर्मा ने कहा कि उन्हें भी एक समय में आईएस की तरफ से धमकी दी गई थी और पुलिस ने आज तक उस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की. अखिल भारत हिन्दू महासभा के उपाध्यक्ष ने कहा कि कमलेश तिवारी के परिजनों की भरण पोषण की व्यवस्था होनी चाहिए.

तीन लोगों को हिरासत में लिया गया

बता दें कि इस मामले में अब तक तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है. ये तीनों इस हत्याकांड में शामिल रहे हैं. इनके नाम हैं, रशीद अहमद पठान, मौलाना मोहसिन शेख और फैजान. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कमलेश तिवारी हत्याकांड के आरोपियों को छोड़ा नहीं जाएगा. उन्होंने कहा कि वे इस केस के बारे में खुद जानकारी ले रहे हैं. सीएम ने कहा कि यदि कमलेश तिवारी का परिवार उनसे मिलने आता है तो वे जरूर मुलाकात करेंगे.

डीजीपी बोले- भड़काऊ भाषण हत्या का अहम कारण 
डीजीपी ने कहा कि हत्याकांड में बिजनौर के दौ मौलानाओं के खिलाफ नामजद मुकदमा भी दर्ज किया गया था. 2015 में दोनों मौलानाओं ने कमलेश के सिर पर इनाम रखा था. इनकी भी जांच की जा रही है. अभी शुरुआती जांच में इन मौलानाओं के ऐलान और सूरत में हिरासत में लिए गए 3 आरोपियों के बीच संबंध खंगाला जा रहा है. ऐसा लगा रहा है कि साम्प्रदायिक भावनाएं भड़काकर हत्याकांड करवाया गया है.
Loading...

ये भी पढ़ें:

कमलेश तिवारी हत्याकांड: भड़काऊ बयान बना हत्या की वजह, 3 गिरफ्तार: DGP



तल्ख तेवर में बोले CM योगी, दहशत पैदा करने वाले तत्वों को कुचलकर रख देंगे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 19, 2019, 4:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...