कांवड़ यात्रा में देशभक्ति का रंग, 101 फीट लंबी कांवड़ से पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि

कांवड़ यात्रियों का जत्था 'एक कांवड़ शहीदों के नाम' लेकर जब मेरठ पहुंचा तो देखने वालों का तांता लग गया. पुलवामा के शहीदों की याद में 101 फीट लम्बी कांवड़ में शहीद सीआरपीएफ जवानों के चित्र लगाए गए हैं.

Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 30, 2019, 1:09 PM IST
कांवड़ यात्रा में देशभक्ति का रंग, 101 फीट लंबी कांवड़ से पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि
101 फीट लंबी कांवड़ से पुलवामा शहीदों को श्रद्धांजलि
Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 30, 2019, 1:09 PM IST
भगवान शिव को गंगाजल चढ़ाने के लिए श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला लगातार जारी है. इसी कड़ी में पच्चीस लोगों का एक  जत्था 'एक कांवड़ शहीदों के नाम' लेकर जब मेरठ पहुंचा, तो देखने वालों का तांता लग गया. पुलवामा के शहीदों की याद में 101 फीट लम्बी कांवड़ में शहीद सीआरपीएफ जवानों के चित्र लगाए गए हैं. कांवड़ यात्रा में शिवभक्ति के अलावा देशभक्ति का जज्बा भी नजर आ रहा है.

पुलवामा शहीदों के नाम 101 फीट लंबी कांवड़
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के जवान शहीद हो गए थे. उनकी शहादत को नमन करते हुए एक पूरा ग्रुप गंगाजल लेने हरिद्वार गया था. वहां से ग्रुप के सदस्य पैदल 101 फीट लंबी कांवड़ लेकर जब मेरठ पहुंचे तो देखने वालों का तांता लग गया. कांवड़ पर सबसे आगे भगवान शंकर की मूर्ति लगाई गई है. साथ ही एक बैनर लगा है, जिस पर लिखा हुआ है 'एक कांवड़ शहीदों के नाम' पुलवामा हमले के शहीद जवानों के नाम भी इस कांवड़ में अंकित किए गए हैं. कांवड़ियों का कहना है कि वो कांवड़ के माध्यम से शहीदों को श्रद्धांजलि दे रहे हैं.

merrut, uttar pradesh, kawar yatra, shivratri, pulwama attack, crpf, pulwama attack martyr, homage, sawan somwar, मेरठ, उत्तर प्रदेश, कांवड़ यात्रा, पुलवामा हमला, पुलवामा हमले के शहीद, सीआरपीएफ, श्रद्धांजलि, सावन सोमवार, शिवरात्रि
शहीदों के नाम की कांवड़ लेकर मेरठ पहुंची कांवड़ यात्रा


मेरठ के औघड़नाथ मंदिर में जुटे श्रद्धालु
सावन की शिवरात्रि के अवसर पर मेरठ के औघड़नाथ मंदिर की छटा तो बस देखते ही बनती है. यहां लाखों श्रद्धालुओं ने गंगाधर को गंगाजल अर्पित कर दिया है. और ये कतार टूटने का नाम नहीं ले रही है. सैकड़ों किलोमीटर की यात्रा करके कांवड़िए भोले के दरबार में हाज़िरी का जल चढ़ा रहे हैं. हर ओर ओंकारा का जयकारा सुनाई दे रहा है. कह सकते हैं कि प्रकृति के नाद का स्वर भी बम बम हो गया है.

ये भी पढ़ें -
Loading...

#HumanStory: लोग समझाते- लड़का गे होगा, तभी वर्जिनिटी जांचने से कतरा रहा है

CBSE ने बदला एग्जाम पैटर्न, इंटरनल एग्जाम्स से बोर्ड में मिलेंगे 10 नंबर
First published: July 30, 2019, 1:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...