मेरठ: 4 बेटियों को दिया जन्म तो शौहर ने बीवी को घर से निकाला, दे रहा दूसरे निकाह की धमकी

मेरठ: एसएसपी कार्यालय में अपनी बेटियों के साथ गुहार लगाने पहुंची महिला.

मेरठ: एसएसपी कार्यालय में अपनी बेटियों के साथ गुहार लगाने पहुंची महिला.

Meerut News: मेरठ के एसएसपी कार्यालय में अपनी 4 मासूम बच्चियों के साथ पहुंची एक मां रो पड़ी. उसने बताया कि बेटियों को जन्म देने के कारण पति उसे मारते-पीटते हुए कहता है कि वो बेटा पैदा नहीं कर पा रही है इसलिए उसे नहीं रखेगा. दूसरा निकाह करने की धमकी दे रहा है.

  • Share this:
मेऱठ. उत्तर प्रदेश में मेरठ (Meerut) के एसएसपी कार्यालय पर गुरुवार को एक महिला रोते हुए अपनी 4 मासूम बेटियों के साथ पहुंची. महिला का कहना है कि बेटा पैदा न होने पर पति उसे मारता-पीटता है. जनसुनवाई के दौरान इस महिला ने अपनी आपबीती बताई. सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया का कहना है कि तथ्यों के आधार पर विधिक कार्रवाई की जाएगी. सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया ने बताया कि इस महिला की शादी बागपत (Baghpat) में हुई है. महिला का मायका मेरठ के लिसाड़ीगेट क्षेत्र में है. जनसुनवाई के दौरान उसने अपने पति पर गंभीर आरोप लगाए. सीओ कोतवाली का कहना है कि महिला के आरोपों पर जांच की जा रही है.

महिला का कहना है कि उसकी चार बेटियां हैं इसलिए पति उसे मारते-पीटते हुए कहता है कि वो बेटा पैदा नहीं कर पा रही है इसलिए उसे नहीं रखेगा. महिला का ये भी कहना है कि उसका पति रोज़ाना दूसरा निकाह करने की धमकी दे रहा है. ऐसे में उसके मासूम बच्चों के भविष्य का क्या होगा?

रोती मां को चुप कराती दिखीं बेटियां

महिला जिस दौरान एसएसपी कार्यालय पहुंची एक बेटी उसकी गोद में भी थी. बाकी अन्य बेटियां मां को रोते हुए देखकर उसे चुप करा रही थीं. जिसने भी इस दृश्य को देखा वो यही कहता हुआ नज़र आ रहा था कि आखिर इन बेटियों क्या कसूर है? एक तरफ सरकार जहां बेटी पढ़ेगी, बेटी बढ़ेगी का नारा बुलंद कर रही है, वहीं दूसरी तरफ समाज में ऐसे भी रुढ़िवादी लोग हैं, जो बेटियों को बोझ समझते हैं. देखने वाली बात होगी कि बेटा पैदा न करने पर पत्नी को घर से निकालने वाले शख्स पर क्या कार्रवाई होती है?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज