मेरठ: कृषि अधिकारी का दावा, टिड्डियां इधर आ गईं तो उन्हें खत्म करके ही लिया जाएगा दम
Meerut News in Hindi

मेरठ: कृषि अधिकारी का दावा, टिड्डियां इधर आ गईं तो उन्हें खत्म करके ही लिया जाएगा दम
पिछले दिनों 245 सहायक कृषि अधिकारियों को भी टिड्डी टेरर के चलते आनन-फानन में नियुक्तियां दी गई थी. (प्रतीकात्मक चित्र )

कृषि अधिकारी प्रमोद सिरोही का कहना है कि प्रशासन मुस्तैद है और अगर टिड्डियां (Locusts) मेरठ (Meerut) आ भी गईं तो उसे खत्म करके ही दम लिया जाएगा.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
मेरठ. सावधान, सावधान, सावधान. टिड्डी दल के आक्रमण की आशंका को लेकर सावधान. टिड्डी दल (Locust Squad) के हमले की आशंका के मद्देनज़र बड़े-बड़े लाउडस्पीकर के माध्यम से आजकल किसानों को जागरूक किया जा रहा है. लाउडस्पीकर के साथ ये गाड़ी मेरठ (Meerut) के विभिन्न गांवों में जा रही है और किसानों को बता रही है कि अगर टिड्डी दल का हमला हुआ तो उन्हें इस ख़तरनाक जीव से अपनी फसलों को कैसे बचाना है. कृषि अधिकारी प्रमोद सिरोही का कहना है कि प्रशासन मुस्तैद है और इस खतरनाक जीव से फसल को बचाने की सारी कवायद की जा रही है. उनका कहना है कि टिड्डियां अगर मेरठ आ भी गईं तो उन्हें खत्म करके ही दम लिया जाएगा.

खेतों में रसायन का छिड़काव तो करें
लाउडस्पीकर के माध्यम से किसानों को ये भी बताया जा रहा है कि वे अपने खेतों में रसायन का छिड़काव करने के साथ ही डीजे, ढोल और नगाड़े, टीन के डिब्बे, थाली बजाएं ताकि यह खतरनाक जीव रफूचक्कर हो जाए.  प्रशासन की टीम मेरठ के विभिन्न गावों का दौरा कर रही है. इन गांवों में जाकर कृषि विभाग की टीम खेतों में रसायन का छिड़काव कर रही है. कृषि अधिकारियों का कहना है कि फसलों को चट करने वाले इस ख़तरनाक जीव से बचने का सिर्फ एक उपाय है, वह है सावधानी. वहीं शुगर मिल की टीम भी प्रशासन की टीम के साथ कंधे से कंधा मिलाकर किसानों को जागरूक करने में जुटी है. मेरठ में एक शुगर मिल के जीएम का कहना है कि किसान ढोल-नगाड़े के साथ-साथ डीजे बजाकर भी टिड्डियों को भगा सकते हैं.

हाई अलर्ट मोड पर हैं चार जिले



गौरतलब है कि राजस्थान होते हुए टिड्डियों का यह दल दिल्ली और वेस्ट यूपी की ओर बढ़ रहा है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश की बात करें तो यहां के चार जिलों को हाई अलर्ट मोड पर रखा गया है जिसमें मुजफ्फरनगर, शामली, बागपत और सहारनपुर शामिल हैंं. हालांकि मेरठ में अलर्ट नहीं है. बावजूद इसके यहां इस ख़तरनाक जीव से किसानों की फसल चट होने से बचाने के लिए सारे प्रबंध किए जा रहे हैं. जरूरत है कि किसान भाई प्रशासनिक टीम की बातों का ख्याल रखें और टिड्डियों के इस चक्रव्यूह से अपनी फसलों को बचाएं.



ये भी पढ़ें - 

NDA 2.0 के एक साल पूरा होने पर बोले CM शिवराज सिंह- मोदी नाम में छुपा है मंत्र

दिल्‍ली में Corona विस्‍फोट से हरियाणा सतर्क, सीमाएं सील
First published: May 30, 2020, 3:43 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading