Home /News /uttar-pradesh /

एक्सप्लेनर :स्वास्थ विभाग इस फार्मूले के तहत वैक्सीनेशन अभियान को देगा गति

एक्सप्लेनर :स्वास्थ विभाग इस फार्मूले के तहत वैक्सीनेशन अभियान को देगा गति

X

मेरठ में जिस तरीके से कोरोना Corona संक्रमण बढ़ता जा रहा है. उसको विराम लगाने के लिए अब स्वास्थ्य विभाग Health Department द्वारा नई नीति के तहत कार्य ?

    मेरठ में जिस तरीके से कोरोना Corona संक्रमण बढ़ता जा रहा है. उसको विराम लगाने के लिए अब स्वास्थ्य विभाग Health Department द्वारा नई नीति के तहत कार्य किया जाएगा.जिसमें एक तरफ जहां स्वास्थ्य की टीम यह जांच कर पता लगाएगी कि कौन व्यक्ति संक्रमित है. वहीं दूसरी ओर विभाग की टीम यह भी पता लगाएगी कि अब तक कितने लोगों ने वैक्सीन की सैकेंड डोज नहीं लगवाई है. क्योंकि विशेषज्ञों का कहना है कि जो लोग वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं. वह लोग ज्यादा संक्रमित हो रहे हैं.ऐसे में जब देश बूस्टर डोज की तरफ जा रहा है तो जिन लोगों ने अभी तक वैक्सीन नहीं लगवाई है.उनके बीच स्वास्थ्य विभाग द्वारा सर्वे के बाद वैक्सीन लगाई जाएगी.

    एक्टिव से ज्यादा ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी
    मेरठ में अगर हम एक्टिव केस की बात करें तो राहत की बात यह है कि एक्टिव से ज्यादा ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ रही है. अगर हम गुरुवार की ही बात करें तो गुरुवार को कुल 719 एक्टिव केस पाए गए. वही ठीक होने वालों का यह आंकड़ा 1256 है. मेरठ में कुल 5759 एक्टिव केस हैं. जिसमें से 5712 होम आइसोलेशन में अपना इलाज कर रहे हैं. हालांकि गुरुवार को दो मरीजों की कोरोना संक्रमण के कारण मृत्यु हुई हो गई.

    कॉल कर भी विभाग दूसरी डोज के लिए कर रहा जागरूक
    अभी तक जिन लोगों ने कोरोना वैक्सीन की सैकेंड डोज नहीं लगवाई है. ऐसे सभी लोगों का डाटा एकत्रित कर स्वास्थ्य विभाग के द्वारा उनको प्रतिदिन कॉल की जा रही है. जिससे वह लोग भी दूसरी डोज लगवा ले.आप को बताते चलें कि पश्चिम उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक माह में ही कोरोना संक्रमण की गति में काफी इजाफा देखने को मिल रहा है.

    रिपोर्ट विशाल भटनागर मेरठ

    Tags: Health Department, मेरठ

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर