लाइव टीवी

मेरठ में किसानों ने थाने में ही लगाई चौपाल, आवभगत में जुटे रहे पुलिसवाले

Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: December 11, 2019, 7:06 PM IST
मेरठ में किसानों ने थाने में ही लगाई चौपाल, आवभगत में जुटे रहे पुलिसवाले
मेरठ के दौराल थाने में किसानों ने चौपाल लगा दी.

मेरठ (Meerut) के थाने में चौपाल लगाकर किसानों ने निर्णय लिया कि अब 21 दिसंबर को किसान हल क्रान्ति का बिगुल बजेगा.

  • Share this:
मेरठ. आज समूचे उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों (Sugarcane Farmers) का आंदोलन था. कहीं आपने गन्ने की होली देखी होगी तो कहीं चक्का जाम. लेकिन मेरठ (Meerut) में तो किसानों ने थाने में ही चौपाल (Chaupal in Police Station) लगा दी. मेरठ के दौराला थाने में लगी किसानों की इस चौपाल में ख़ाकी वर्दीधारी ही उनकी आवभगत में जुटे रहे. कभी पानी तो कभी चाय पिलाकर किसानों की खिदमत की गई. सैकड़ों की संख्या में किसानों ने काफी देर तक थाने में चौपाल लगाई. इस चौपाल में किसानों ने गन्ने का समर्थन मूल्य, गन्ना मूल्य भुगतान सहित तमाम मुद्दों पर रणनीति बनाई.

21 दिसंबर को किसान हल क्रान्ति का बजेगा बिगुल

इससे पहले गन्ना किसान आज जमकर गरजे. मेरठ सहित विभिन्न ज़िलों में आज किसानों ने चक्का जाम किया. किसानों का ये हल्लाबोल प्रशासन की काफी मशक्कत के बाद समाप्त हुआ. इस दौरान कई घंटों तक हाईवे पर यातायात बाधित रहा. गन्ना किसानों ने ऐेलान किया है कि अभी तो आज सिर्फ चक्का जाम किया है, अगर उनकी मांगे नहीं मानी गईं तो आने वाले दिनों में ये आंदोलन और उग्र होगा. थाने में चौपाल लगाकर किसानों ने निर्णय लिया कि अब 21 दिसंबर को किसान हल क्रान्ति का बिगुल बजेगा.

meerut farmer1
मेरठ के थाने में चौपाल लगाने पहुंचे किसान.


मेरठ, मुजफ्फरनगर, बागपत, शामली, सहारनपुर, बिजनौर, रामपुर सहित समूचे वेस्ट यूपी के ज़िले आज किसान यूनियन ज़िन्दाबाद के नारों से गूंजते रहे. जब तक किसान सड़क पर रहे प्रशासन के भी हाथ-पांव फूलते रहे कि ये आंदोलन उग्र न हो जाए. ख़ैर समूचे वेस्ट यूपी में हर जगह आंदोलन शांतिप्रिय ही रहा.. अब 21 दिसम्बर को होने वाले आंदोलन को लेकर किसान क्या रणनीति बनाते हैं ये देखना भी महत्वपूर्ण होगा.

ये भी पढ़ें:

काशी में पोस्टर लगाकर देवी मंदिर में बलात्कारियों के प्रवेश पर लगी रोकप्रियंका को गन्ना मंत्री सुरेश राणा का जवाब- जाइए उन सरकारों को पत्र लिखिए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 7:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर