लाइव टीवी

UP Board 2020: मेरठ में एक छात्र पास होने के बाद भी दे रहा था इंटर की परीक्षा
Meerut News in Hindi

Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 25, 2020, 10:58 AM IST
UP Board 2020: मेरठ में एक छात्र पास होने के बाद भी दे रहा था इंटर की परीक्षा
मेरठ में एक छात्र पास होने के बाद भी दे रहा था इंटर की परीक्षा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जिला विद्यालय निरीक्षक गिरिजेश चौधरी ने बताया कि अब इस मामले में क्षेत्रीय सचिव को तय करना है कि क्या कार्रवाई की जाए. इसका परीक्षा फल भी रोका जा सकता है, इसके अलावा सिर्फ विज्ञान विषयों का रिजल्ट भी जारी किया जा सकता है.

  • Share this:
मेरठ. मेरठ (Meerut) के जिला विद्यालय निरीक्षक (DIOS) की टीम ने इंटरमीडिएट की परीक्षा दे रहे हैं ऐसे छात्र को पकड़ा है जो 12वीं की परीक्षा पहले ही पास कर चुका था. इस छात्र ने पहले कला विषय से इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की थी और इस बार में विज्ञान से परीक्षा दे रहा था. नियम के अनुसार वो विज्ञान और कला संकाय में अलग-अलग परीक्षा तो दे सकता है, लेकिन सभी विषयों की परीक्षा नहीं दे सकता. इस संबंध में डीआईओएस गिरिजेश चौधरी ने माध्यमिक शिक्षा परिषद के क्षेत्रीय कार्यालय के सचिव को पत्र लिखा है.

सचिव को लिखा पत्र

जिला विद्यालय निरीक्षक गिरिजेश चौधरी ने बताया कि अब इस मामले में क्षेत्रीय सचिव को तय करना है कि क्या कार्रवाई की जाए. इसका परीक्षा फल भी रोका जा सकता है, इसके अलावा सिर्फ विज्ञान विषयों का रिजल्ट भी जारी किया जा सकता है. बाकी विषयों का रोक दिया जाए.



उन्होंने बताया कि प्रवेश पत्र में लिखी गई उम्र और आधार कार्ड में दर्शाई गई उम्र का मिलान किया जा रहा था. इसी दौरान यह छात्र पकड़ में आया. बता दें कि छात्र पीटीआरपीएस आसिफाबाद के विद्यालय का छात्र है. उसका परीक्षा केंद्र जय किसान इंटर कॉलेज पूठी में लगा हुआ था. वह द्वितीय पाली में रसायन विज्ञान की परीक्षा दे रहा था.



डीआईओएस गिरिजेश चौधरी
डीआईओएस गिरिजेश चौधरी


एडम‍िट कार्ड में हुआ ये बदलाव
ऐसा पहली बार है जब छात्रों के एडम‍िट कार्ड में उनके माता-प‍िता का नाम ह‍िन्‍दी के साथ-साथ अंग्रेजी में भी द‍िया जाएगा. इससे पहले अभ‍िभावकों के नाम स‍िर्फ ह‍िन्‍दी में ही ल‍िखे जाते थे.

लाइव मॉन‍िटर‍िंग
नकल पर नकेल कसने के ल‍िये इस बार सुरक्षा के और भी कड़े इंतजाम क‍िए गए हैं. इस बार मॉन‍िटर‍िंग सेल बनाए गए हैं, जहां से परीक्षा केंद्रों पर और परीक्षार्थी व श‍िक्षकों पर सीधी नजर रखी जाएगी. मॉन‍िटर‍िंग सेल से सभी एग्‍जाम सेंटर्स कनेक्‍टेड होंगे.

बता दें क‍ि यूपी बोर्ड परीक्षा में सख्‍ती को देखते हुए, इस बार परीक्षा के ल‍िये रज‍िस्‍टर करने वाले छात्रोंं की संख्‍या में ग‍िरावट आई है. आंकड़ों की मानें तो प‍िछले साल के मुकाबले इस साल 10वींं कक्षा की बोर्ड परीक्षा के ल‍िये रजिस्‍टर करने वाले छात्रों की संख्‍या में 1,69,980 ग‍िरावट दर्ज की गई है. वहीं 12वीं के ल‍िये 18,658 कमी आई है. प‍िछले साल 57,95,756 छात्रों ने परीक्षा के ल‍िये रजिस्‍टर क‍िया था, जबक‍ि इस साल 56,07,118 छात्रों ने आवेदन क‍िया.

ये भी पढ़ें:

जानिए 'सेक्स' के नाम पर गोरखधंधा करने वाले क्लीनिकों का सच, कैसे बन रहे है ठगी के शिकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 10:56 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading