• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • ड्रोन व CCTV की निगरानी में रहेगी कल होने वाली मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत

ड्रोन व CCTV की निगरानी में रहेगी कल होने वाली मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत

किसान महापंचायत के मद्देनजर मुजफ्फरनगर के हर चौक-चौराहे पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. (सांकेतिक फोटो)

किसान महापंचायत के मद्देनजर मुजफ्फरनगर के हर चौक-चौराहे पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. (सांकेतिक फोटो)

Kisan Mahapanchayat : मेरठ जोन के एडीजी राजीव सभरवाल ने कहा कि ट्रैक्टर, बस और कार के लिए अलग-अलग पार्किंग व्यवस्था की गई है. उन्होंने बताया कि ड्रोन और सीसीटीवी के जरिए भी निगरानी की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

मेरठ. 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर में होने जा रही किसान महापंचायत के मद्देनजर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं. मेरठ जोन के एडीजी राजीव सभरवाल का कहना है कि क्राउड मैनेजमेंट और ट्रैफिक मैनेजमेंट पर खास फोकस किया जा रहा है. ट्रैक्टर, बस और कार के लिए अलग-अलग पार्किंग व्यवस्था की गई है. उन्होंने बताया कि ड्रोन और सीसीटीवी के जरिए भी निगरानी की जाएगी. मुजफ्फरनगर के जीआईसी ग्राउंड में होने जा रही किसान महापंचायत में पीएसी और आरएएफ भी तैनात रहेगी.

5 मेजर पार्किंग ग्राउंड्स बनाए गए

मेरठ जोन के एडीजी ने बताया कि जिस जीआईसी ग्राउंड में महापंचायत होने जा रही है, वहां निकलने के स्थान को भी बढ़ाया गया है. महापंचायत को लेकर 5 मेजर पार्किंग ग्राउंड्स बनाए गए हैं. एडीजी ने कहा कि महापंचायत में आसपास के राज्यों और जनपदों से भी लोगों के आने का अनुमान है. इसलिए हर स्तर पर सुरक्षा कड़ी की जा रही है. राजीव सभरवाल का कहना है कि महापंचायत के आयोजकों से भी संपर्क किया गया है. आवाजाही में लोगों को कोई दिक्कत न हो, इसके लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं. उन्होंने बताया कि ट्रैफिक प्लान ऐसा बनाया गया है कि लोगों को घूम के भले ही जाना पड़े लेकिन जाम की स्थिति नहीं होगी. हर रूट पर गैजटेड ऑफिसर्स की मौजूदगी सुनिश्चित की गई है.

इन्हें भी पढ़ें :
यूपी होमगार्ड भर्ती के लिए क्या होगी अनिवार्य योग्यता, जानें यहां
नौसेना सहित यहां हैं 10वीं पास के लिए 6500 से अधिक नौकरियां, देखें सैलरी और योग्यता

सभी चौराहों पर सीसीटीवी

मुजफ्फनगर में महापंचायत को लेकर 1000 से अधिक कर्मियों वाली पीएसी की 8 कंपनियां और मेरठ क्षेत्र के सभी जिलों में लगभग एक हजार से अधिक पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं. मुजफ्फरनगर के अलावा सहारनपुर, मेरठ, गाजियाबाद, शामली और बागपत जिलों के करीब 1000 पुलिसकर्मी 5 सितंबर को कार्यक्रम स्थल की ओर जाने वाले राजमार्गों और लिंक रोड पर तैनात होंगे. महापंचायत के दौरान किसी भी अनहोनी को रोकने के लिए डिजिटल कैमरों से लैस विशेष ड्रोन हर सेकंड घटना की लाइव तस्वीरें भेजेंगे. सुरक्षा के लिहाज से मुजफ्फरनगर के सभी चौराहों पर सीसीटीवी लगाए गए हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज