• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • कोयले की कमी का असर मेरठ में भी लगा दिखने,बिजली के कट से जनता हुई परेशान 

कोयले की कमी का असर मेरठ में भी लगा दिखने,बिजली के कट से जनता हुई परेशान 

8

8 दिन में नहीं सुधरी कोयले की व्यवस्था तो बिगड़ सकते हैं हालात

कोयले की कमी होने के बाद अब बिजली संकट गहरा गया है. पश्चिम उत्तर प्रदेश में भी इसका असर देखने को मिल रहा है.हालांकि पश्चिमांचल के अधिकारियों का कहना है कि अब मौसम में बदलाव होने के कारण खपत में काफी कमी आई है.लेकिन कोयले की कमी इस प्रकार जारी रही तो आने वाले समय में भारी विद्युत संकट खड़ा हो सकता है.

  • Share this:

    मेरठः-कोयले की कमी होने के बाद अब बिजली संकट गहरा गया है. पश्चिम उत्तर प्रदेश में भी इसका असर देखने को मिल रहा है.हालांकि पश्चिमांचल के अधिकारियों का कहना है कि अब मौसम में बदलाव होने के कारण खपत में काफी कमी आई है. ऐसे में आज से 10 दिन तक पश्चिमांचल में बिजली का संकट देखने को नहीं मिलेगा. लेकिन कोयले की कमी इस प्रकार जारी रही तो आने वाले समय में बिजली का संकट उत्पन्न हो सकता है. वहीं जमीनी स्तर की बात की जाए तो शहर में 20 से 21 घंटे और ग्रामीण क्षेत्रों में 15 से 16 घंटे तक की आपूर्ति की जा रही. जबकि कोयला संकट से पहले की विद्युत आपूर्ति ग्रामीण क्षेत्रों में 18 से 20 और शहरी क्षेत्रों में 24 घंटे होती थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज