UP: मेरठ में दिलचस्प हुआ पंचायत चुनाव, पति-पत्नी से लेकर देवरानी-जेठानी आमने-सामने

मेरठ में पति-पत्नी से लेकर देवरानी-जेठानी ने किया नामांकन

मेरठ में पति-पत्नी से लेकर देवरानी-जेठानी ने किया नामांकन

जिला पंचायत सदस्य पद के लिए पति-पत्नी (Husband-wife) अपने बच्चे के साथ जब अलग-अलग नामांकन (Nomination) करने पहुंचे तो सभी बस देखते ही रह गया.

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) जिले में मंगलवार को पंचायत चुनाव 2021 (UP Panchayat Election 2021) के लिए नामांकन शुरू हो गया. खासतौर से महिला उम्मीदवारों में नामांकन को लेकर गज़ब का उत्साह देखने को मिला. उत्साह इस कदर कि जिला पंचायत सदस्य पद के लिए पत्नी ही पति के सामने दावेदार बनकर खड़ी हो गई तो देवरानी भी कहां पीछे रहने वाली वो अपनी ही जेठानी के सामने खड़ी हो गईं. 70 साल की बुज़ुर्ग महिला पर जहां पंचायत चुनावों का खुमार नज़र आया तो घूंघट में आकर कई महिलाओं ने नामांकन किया. वाकई में पंचायत चुनावों का रंग बड़ा गाढ़ा है.

लोकतंत्र की ख़ूबसूरती का नज़ारा इससे बेहतर क्या होगा कि जब पति- पत्नी दोनों एक ही वार्ड के लिए नामांकन करने पहुंचे. जिला पंचायत सदस्य पद के लिए पति- पत्नी अपने बच्चे के साथ जब अलग-अलग नामांकन करने पहुंचे तो सभी बस देखते ही रह गया. पति का कहना है कि वो नेता बनेगा तो पत्नी का कहना है कि वो जनप्रतिनिधि बनकर जनता की सेवा करेगी. पति जीतेगा या पत्नी ये तो आने वाला वक्त बताएगा लेकिन आज की तारीख में दोनों एक दूसरे के आमने-सामने हैं.

UP: डॉन मुख्तार की वीडियो कांफ्रेंसिंग से हुई पेशी, बोला- जेल में मुझे कुर्सी, कूलर और...

यही नहीं पति पत्नी के अलावा देवरानी- जेठानी भी एक दूसरे के सामने ताल ठोंकती नज़र आईं. देवरानी जेठानी बाकायदा फूलों की माला पहनकर नामांकन करने पहुंची. देवरानी से जब हमने ये पूछा कि उनका चुनावों में मुद्दा क्या तो जवाब मिला जीत का. वहीं जेठानी से जब यही सवाल किया गया कि उनका मुद्दा क्या है तो भी बोलीं हमें जीतना है. उधर, 70 साल की बुज़ुर्ग महिला भी बीमार होते हुए भी नामांकन करने पहुंची. वहीं घूंघट में आ रही कई महिलाओं ने जनप्रतिनिधि बनने के लिए नामांकन किया.
इसके अलावा कई सीट पर भाई- भाई भी आमने सामने हैं. यानी इतना तो तय है कि जब बात चुनाव की होती है तो वहां रिश्ते दूसरे पायदान पर पहुंच जाते हैं. इसलिए कह सकते हैं कि पंचायत चुनाव की इस बयार में आजकल घर- घर राजनीति का अखाड़ा बना हुआ है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज