Home /News /uttar-pradesh /

मेरठ ने 1 साल 8 माह बाद दी कोरोना को मात, अस्पताल में भर्ती इकलौता शख्स भी डिस्चार्ज

मेरठ ने 1 साल 8 माह बाद दी कोरोना को मात, अस्पताल में भर्ती इकलौता शख्स भी डिस्चार्ज

कोरोना शून्य शब्द को सुनने के लिए मेरठ के लोगों के कान तरस गए थे. सर्विलांस अधिकारी डॉक्टर अशोक तालियान ने बताया कि अब कोविड-19 का एक भी मरीज जिले में नहीं है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कोरोना शून्य शब्द को सुनने के लिए मेरठ के लोगों के कान तरस गए थे. सर्विलांस अधिकारी डॉक्टर अशोक तालियान ने बताया कि अब कोविड-19 का एक भी मरीज जिले में नहीं है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Meerut News: उत्तर प्रदेश का मेरठ जिला (Meerut Coronavirus Free) भी अब कोरोना मुक्त हो गया है. अब यहां कोविड-19 (COVID-19) का एक भी मरीज नहीं बचा है. शुक्रवार को इकलौते शख्स को भी अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया. इस खबर से स्वास्थ्य विभाग की टीम उत्साहित है. कोरोना शून्य शब्द को सुनने के लिए मेरठ के लोगों के कान तरस गए थे. सर्विलांस अधिकारी डॉक्टर अशोक तालियान ने बताया कि अब कोविड-19 का एक भी मरीज जिले में नहीं है. शुक्रवार को 3926 सैंपल्स की जांच की गई, जिसमें कोरोना का एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिला. उन्होंने बताया कि एक मात्र मरीज जो अस्पताल में भर्ती था, शुक्रवार को उन्हें भी डिस्चार्ज कर दिया गया है.

अधिक पढ़ें ...

मेरठ. उत्तर प्रदेश का मेरठ जिला (Meerut Coronavirus Free) भी अब कोरोना मुक्त हो गया है. अब यहां कोविड-19 (COVID-19) का एक भी मरीज नहीं बचा है. शुक्रवार को इकलौते शख्स को भी अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया. इस खबर से स्वास्थ्य विभाग की टीम उत्साहित है. कोरोना शून्य शब्द को सुनने के लिए मेरठ के लोगों के कान तरस गए थे. सर्विलांस अधिकारी डॉक्टर अशोक तालियान ने बताया कि अब कोविड-19 का एक भी मरीज जिले में नहीं है. शुक्रवार को 3926 सैंपल्स की जांच की गई, जिसमें कोरोना का एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिला. उन्होंने बताया कि एक मात्र मरीज जो अस्पताल में भर्ती था, शुक्रवार को उन्हें भी डिस्चार्ज कर दिया गया है.

मेरठ में कोरोना के केस जरूर शून्य हो गए हैं, लेकिन डेंगू के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं. मेरठ में डेंगू के 39 नए केस रिपोर्ट हुए हैं. यहां डेंगू के कुल मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 1261 हो गया है. डेंगू के 312 एक्टिव केस बचे हैं, जबकि 949 लोगों ने डेंगू को मात दे दी है. डेंगू के 89 मरीज जहां अस्पताल में भर्ती हैं वहीं 223 डेंगू के मरीज घर पर हैं.

वहीं कानपुर में जीका वायरस का पहला केस मिलने के बाद वेस्ट यूपी में भी अलर्ट है. मेरठ मेडिकल कालेज की माइक्रोबायोलोजी लैब में भी जीका वायरस जांच की तैयारियां कर ली गई हैं. प्राचार्य डा. आरसी गुप्ता और माइक्रोबायोलोजिस्ट डा. अमित गर्ग ने बताया कि जीका की जांच के लिए मॉलीक्यूलर एवं सीरोलोजिकल मेथड का प्रयोग होता है.

प्रदेश सरकार ने कहा है कि लैब में उच्च गुणवत्ता के साथ वायरस की जांच की जा सकती है. इसके लिए अलग रिजेंट मंगवाने पड़ेंगे. सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि जीका वायरस को लेकर मेरठ में हाईअलर्ट है. यहां विदेशों से आने वालों लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी. ग्रामीण क्षेत्रों में निगरानी समितियों को विदेश से आने वालों की जानकारी देने के लिए कहा गया है.

आपके शहर से (मेरठ)

मेरठ
मेरठ

Tags: Coronavirus, Covid-19 Case, Meerut news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर