लाइव टीवी

सड़क किनारे सो रहे श्रद्धालुओं को बस ने रौंदा, मृतकों को 2-2 लाख का मुआवजा

भाषा
Updated: October 11, 2019, 4:28 PM IST
सड़क किनारे सो रहे श्रद्धालुओं को बस ने रौंदा, मृतकों को 2-2 लाख का मुआवजा
बस ने रौंदा सात की मौत

इस हादसे (Accident) में मरने वालों में तीन बच्चे और चार महिलाएं हैं. सभी श्रद्धालु वैष्णो देवी (Vaishno Devi) के दर्शन करके लौट रहे थे.

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश (Uttar pradesh) के मेरठ (Meerut) मंडल के बुलंदशहर जनपद में भीषण सड़क हादसा हुआ है. यहां नरौरा के गांधी गंगा घाट के समीप सड़क किनारे सो रहे सात श्रद्धालुओं की बस से कुचल कर मौत हो गई. शुक्रवार तड़के हुए इस हादसे में मरने वालों में तीन बच्चे और चार महिलाएं हैं. सभी श्रद्धालु वैष्णो देवी के दर्शन करके लौट रहे थे.

एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि हाथरस जिले के थाना चंदपा क्षेत्र निवासी फूलवती का परिवार कुछ ग्रामीणों और रिश्तेदारों के साथ बस से तीर्थयात्रा पर निकला था. वैष्णो देवी से दर्शन कर लौट रहे सभी यात्री शुक्रवार तड़के नरौरा के गांधी गंगा घाट पर पहुंचे थे. यात्री वहीं पर बस से उतर कर सड़क किनारे सो गए.

सीएम ने की 2 लाख देने की घोषणा
तड़के लगभग चार बजे तीर्थ यात्रियों से भरी एक दूसरी बस ने सड़क किनारे सो रहे यात्रियों को कुचल दिया. घटना के बाद आरोपी बस चालक मौके से फरार हो गया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर शोक जताया है और सभी मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये देने की घोषणा की है.

मृतकों के नाम हैं
एसएसपी के अनुसार मरने वाले सभी एक ही परिवार से हैं. इनके नाम फूलवती(65), माला देवी (32), शीला देवी (35), योगिता (5), कल्पना (4), रेनू (22) और संजना(4) हैं.

ये भी पढ़ें: 
Loading...

तेल मालिश कराने वाले के साथ खड़ी है यूपी सरकार: अखिलेश यादव

गरीबी की दास्तां सुनाते हुए भावुक हुए अजय कुमार लल्लू, कही ये बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 11, 2019, 4:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...