UP के डिप्टी CM ने कहा- लगता है अब अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाना पड़ेगा, जानें इसकी वजह...

चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के 32वें दीक्षांत समारोह में प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए

चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के 32वें दीक्षांत समारोह में प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए

विश्वविद्यालय के बत्तीसवें दीक्षांत समारोह में ज्यादातर मेडल पर छात्राओं ने अपना कब्जा जमाया है. इस पर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा (Deputy CM Dinesh Sharma) ने हल्के-फुल्के अंदाज में कहा कि छात्रों को परिश्रम करना चाहिए नहीं तो हमें यहां अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस (International Men's Day) मनाना पड़ेगा

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) के चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के बत्तीसवें दीक्षांत समारोह (Convocation) में छात्राओं ने फिर बाजी मारी है. ज्यादातर मेडल पर छात्राओं ने अपना कब्जा जमाया है. प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा (Deputy CM Dinesh Sharma) ने हल्के-फुल्के अंदाज में कहा कि छात्रों को परिश्रम करना चाहिए नहीं तो हमें यहां अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस (International Men's Day) मनाना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि सीसीएसयू (CCSU) में 80 प्रतिशत लड़कियां हैं, जिन्होंने मेडल लिए हैं. यह महिला दिवस की मजबूती को दिखाता है. उन्होंने कहा कि जब महिला दिवस की बात आई तो कई जगहों पर पुरुष दिवस मनाने की मांग उठी जिस पर 19 नवंबर को अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाना तय किया गया है. डिप्टी सीएम ने कहा यह दिवस अभी अपने देश में कम है. विश्विद्यालय में छात्रों को मेहनत करने की जरूरत है, नहीं तो यूपी में भी अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाने की जरूरत पड़ेगी. उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात की बेहद खुशी है कि लड़कियां आगे बढ़ रही हैं. लेकिन छात्रों को भी मेहनत करने की जरुरत है.

विश्वविद्यालय के बत्तीसवें दीक्षांत समारोह में मेडल पाने वाली छात्राओं की खुशी का ठिकाना नहीं है. छात्राओं ने अपनी कामयाबी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया और कहा कि उनके दिए 'बेटी पढ़ेगी, बेटी बढ़ेगी' के नारे को वो साकार कर रही हैं. दीक्षांत समारोह में चार मेडल पाने वाली एक छात्रा ने कहा कि इस कामयाबी के लिए वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देती हैं. छात्रा ने कहा कि पीएम मोदी के दिये गए नारे 'बेटी पढ़ेगी, बेटी आगे बढ़ेगी' की वजह से आज वो कामयाब हो रही हैं.

'किसानों के नाम पर कुछ लोग राजनीति कर रहे'

वहीं किसान आंदोलन को लेकर पूछे गए सवाल पर  डिप्टी सीएम ने कहा कि अन्नदाता के नाम पर कुछ लोग राजनीति कर रहे हैं जिसकी पोल खुल चुकी है. सरकार किसानों की आय को वास्तविक रूप से दोगुना करना चाहती है जिसके लिए ही सारे कानून बनाए गए हैं. उन्होंने कहा कि किसान और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक-दूसरे के पर्याय हैं.
दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार गांवों को 18 से 20 घंटे बिजली दे रही है. शिक्षा के उन्नयन के लिए नई शिक्षा नीति लाई गई है. जिसमें प्रदेश के सभी विश्वविद्यालय में 70 प्रतिशत सिलेबस समान होगा. केवल 30 फीसदी सिलेबस ही स्थानीय जरूरत के हिसाब से विश्वविद्यालय बदल सकेंगे. उन्होंने बताया कि अयोध्या में कुछ निजी संस्थान श्रीराम विश्वविद्यालय खोलना चाहते हैं. सरकार इस दिशा में भी काम कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज