सावधान! मेरठ में यहां थूका तो देना होगा 5000 रुपये तक का जुर्माना

Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 23, 2019, 5:48 PM IST
सावधान! मेरठ में यहां थूका तो देना होगा 5000 रुपये तक का जुर्माना
मेरठ सिटी रेलवे स्टेशन ने स्वच्छता को लेकर नया फरमान जारी किया है.

मेरठ सिटी स्टेशन (Meerut City Station) ने स्वच्छता को लेकर आदेश जारी किया है कि अगर किसी ने भी स्टेशन परिसर को गंदा किया तो अब उसकी खैर नहीं. स्टेशन परिसर में थूकने पर 200 रुपए से लेकर 5000 रुपए तक का जुर्माना लगेगा.

  • Share this:
मेरठ सिटी स्टेशन (Meerut City Station) ने स्वच्छता को लेकर आदेश जारी किया है कि अगर किसी ने भी स्टेशन परिसर को गंदा किया तो अब उसकी खैर नहीं. स्टेशन परिसर में थूकने पर 200 रुपए से लेकर 5000 रुपए तक का जुर्माना लगेगा. खुले में शौच या पेशाब करने पर भी इतना ही जुर्माना लगेगा. यही नहीं थूकने या खुले में शौच करने पर जेल की हवा खानी पड़ सकती है. स्टेशन को साफ-सुथरा रखने के लिए अब जगह-जगह कूड़ेदान भी रखे गए हैं. स्टेशन के शौचालय भी साफ-सुथरे कर दिए गए हैं. आमतौर पर गंदगी के ढेर पर रहने वाला स्टेशन अब बदला-बदला सा नज़र आ रहा है.

दरअसल मेरठ सिटी स्टेशन पर साफ-सफाई को लेकर अभियान शुरू किया गया है. इस अभियान को एक आदेश के माध्यम से लागू किया जा रहा है. मसलन अब अगर किसी ने स्टेशन परिसर पर थूका या फिर खुले में शौच या पेशाब करते हुए पक़ड़ा गया तो उसे दो सौ रुपए से लेकर पांच हज़ार रुपए तक का जुर्माना देना पड़ सकता है. यही नहीं थूकने या खुले में शौच करने पर जेल की भी हवा खानी पड़ सकती है.
स्टेशन परिसर में अब जगह-जगह कूड़ादान भी रखा गया है. सैकड़ों की संख्या में कूडे़दान ये इशारा करते हुए नज़र आते हैं कि अगर गंदगी फैलाई तो अब खैर नहीं. जुर्माने के इस आदेश का सख्ती के साथ लागू करने का असर ये रहा कि अब लोग गंदगी फैलाने से पहले सौ बार सोचते हैं.

meerut2
मेरठ सिटी स्टेशन पर स्चछता अभियान में आई तेजी.


मेरठ सिटी स्टेशन पहुंची क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया की टीम भी यहां की साफ सफाई की तारीफ किए बगैर न रह सकी. क्यूसीआई के सदस्य ने बताया कि साफ सफाई के मामले में मेरठ सिटी स्टेशन की रैंकिंग देश में 89वीं है. अगर साफ-सफाई की व्यवस्था ऐसे ही बेहतर रही तो यकीनन यहां की रैंकिंग में सुधार हो सकता है.

meerut3
मेरठ सिटी रेलवे स्टेशन पर स्वच्छता के लिए जगह-जगह डस्टबिन लगाए गए हैं.


स्वच्छ भारत स्वच्छ रेलवे का नारा देने वाला विभाग अब स्वच्छता को जांचने के लिए सर्वे कर रहा है. खैर स्टेशन की इस कवायद का हम स्वागत करते हैं लेकिन इसी स्टेशन पर हमें भी कवरेज के दौरान ऐसी तस्वीर भी देखने को मिली जिस पर भी कड़े एक्शन की आवश्यकता है. मसलन स्टेशन पर एक प्लेटफॉर्म से दूसरे प्लेटफॉर्म पर जाने के लिए लोग फुटओवर ब्रिज का इस्तेमाल बहुत कम करते हैं. अलबत्ता पटरी पार करना भी बेहतर समझते हैं. ये करना भी कानूनन अपराध है लेकिन इस पर बातें तो बड़ी-बड़ी होती हैं लेकिन स्थिति वही ढाक के तीन पात वाली रह जाती है. जरूरत है तो इस ओर भी सख्ती बरतने की ताकि लोग असमय ही काल के गाल में न समा सकें.
Loading...

ये भी पढ़ें:

FB पर शिमला की मौज-मस्ती की फोटो डालना पड़ा महंगा, अरेस्ट

तीन राज्यों में बिक रहे इस पेट्रोल से उड़ी अफसरों की नींद

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 5:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...