अपना शहर चुनें

States

मेरठ: मिलावटखोरों की ख़ैर नहीं, रात के अंधेरे में भी पड़ सकता है खाद्य विभाग का छापा

फूड सेफ्टी ऑन व्हील्स (Food Safety on wheels)
फूड सेफ्टी ऑन व्हील्स (Food Safety on wheels)

फूड सेफ्टी ऑन व्हील्स (Food Safety on wheels) भी गांव-गांव जाकर लोगों को जागरुक कर रही है कि कैसे मिलावट की जांच वो ख़ुद भी कर सकते हैं

  • Share this:
मेरठ. होली के त्योहार (Holi Festival) के मद्देनजर अहतियात बरतते हुए मिलावटखोरों पर शिकंजा कसने के लिए इस बार खाद्य विभाग (Food department) नई-नई प्लैनिंग कर रहा है. नई स्ट्रैटजी के साथ खाद्य विभाग मिलावट के कारोबारियों पर नकेल कसेगा ऐसा दावा खाद्य विभाग ने किया है. हालांकि दीपावली (Diwali) के अवसर पर भी खाद्य विभाग ने कारोबारियों से सैम्पल कलेक्ट किए थे. जिनकी जांच रिपोर्ट भी आ गई है लेकिन मिलावटखोरों (adulterants) पर अब तक क्या कार्रवाई की गई है इस पर विभाग का वही रटारटाया जवाब है कि कठोर कार्रवाई की जाएगी.

गांव-गांव व गली-गली में लोगों को किया जा रहा जागरूक
खाद्य विभाग की अभिहीत अधिकारी अर्चना धीरान ने news 18 से ख़ास बातचीत में नई रणनीति के बारे में बताते हुए कहा कि इस बार होली के त्योहार के मद्देनजर चौबीस घंटे में किसी भी वक्त खाद्य विभाग मिलावटखोरों के घर और गोडाउन पर छापेमारी की कार्रवाई करेगा. उन्होंने कहा कि आठ फरवरी तक मिलावटखोरों के खिलाफ वृहद अभियान चलाया जायेगा. उन्होंने बताया कि इसके अलावा फूड सेफ्टी ऑन व्हील्स (Food Safety on wheels) भी गांव-गांव जाकर लोगों को जागरुक कर रही है कि कैसे मिलावट की जांच वो ख़ुद भी कर सकते हैं.

गौरतलब है कि न्यूज़ 18 ने धूल फांक रही फू़ड सेफ्टी ऑन व्हील्स की ख़बर की थी. इस ख़बर के बाद ही बजट के अभाव में रफ्तार न भर पाने वाली इस गाड़ी के पहिए घूमे और अब यही गाड़ी गांव-गांव गली-गली जाकर आम उपभोक्ताओं को जागरुक कर रही है. इससे पहले दीपावली पर खाद्य विभाग की टीम ने जो नमूने लिए थे उनकी भी रिपोर्ट आ गई है. ज्यादातर सैम्पल में घोर मिलावट पाई गई है. अभिहीत अधिकारी अर्चना धीरान का कहना है कि अब इन मिलावटखोरों पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा और इन पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.
 



ये भी पढ़ें-  महोबा जेल में दो कैदियों ने आत्महत्या का किया प्रयास, डिप्टी जेलर पर लगाए गंभीर आरोप...
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज