लाइव टीवी

मेरठ: इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग को धारा-144 के उल्लंघन का नोटिस

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 14, 2020, 11:40 PM IST
मेरठ: इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग को धारा-144 के उल्लंघन का नोटिस
मेरठ में इंडियन मुस्लिम लीग ने की सभा

पुलिस ने आयोजकों को ये नोटिस देते हुए पूछा है कि जब शहर में धारा-144 लागू है तो उन्होंने बिना अनुमति के सभा क्यों की? इससे पहले आज इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (Indian Union Muslim League) का दल मेरठ पहुंचा. पहले उन्होंने इकबाल हाउस (Iqbal House) में एक सभा की और फिर मेरठ में 20 दिसम्बर को हुई हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने पहुंचे.

  • Share this:
मेरठ. जनपद में इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (Indian Union Muslim League) के पदाधिकारियों को बिना प्रशासन की अनुमति के सभा करना महंगा पड़ गया. जनपद पुलिस ने उन्हें धारा- 144 के उल्लंघन का नोटिस दिया है. वहीं सभा के दौरान राज्यसभा सांसद अब्दुल वहाब (Rajya Sabha MP Abdul Wahab) ने शब्दों की मर्यादा तोड़ते हुए आरएसएस (RSS) को लेकर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी भी कर डाली.

CAA का किया विरोध
बता दें कि मेरठ (Meerut) में आज इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के पदाधिकारियों को सभा करना महंगा पड़ गया. पुलिस की एक टीम कार्यक्रम के बाद सभा स्थल पर पहुंची और आयोजकों से तीन दिन में जवाब देने को कहा है. पुलिस ने आयोजकों को ये नोटिस देते हुए पूछा है कि जब शहर में धारा-144  लागू है तो उन्होंने बिना अनुमति के सभा क्यों की? इससे पहले आज इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग का दल मेरठ पहुंचा. पहले उन्होंने इकबाल हाउस (Iqbal House) में एक सभा की और फिर मेरठ में 20 दिसम्बर को हुई हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने पहुंचे. इस प्रतिनिधि मंडल में मुस्लिम लीग के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद कादर मुहीउद्दीन, लीग के राष्ट्रीय संगठन मंत्री और सांसद टी बशीर, मुस्लिम लीग के राष्ट्रीय महासचिव और सांसद पी के कुनाहली कुट्टी और मुस्लिम लीग के राज्य सभा सांसद अब्दुल वहाब सहित मुस्लिम लीग के कई अन्य नेता भी पहुंचे. इन सभी ने एक सुर में सीएए (CAA) का खुलेआम विरोध किया.

सांसद पी के कुनाहली कुट्टी ने news 18 से ख़ास बातचीत में बताया कि इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने नागरिकता संशोधन एक्ट को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. 22 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में इसे लेकर अगली तारीख है. उन्होंने कहा कि मेरठ में 20 दिसम्बर को हुई हिंसा को लेकर वो मानवाधिकार के अधिकारियों से भी मिलेंगे और यहां की स्थिति से अवगत कराएंगे. इस दौरान मुस्लिम लीग के राज्य सभा सांसद अब्दुल वहाब ने मर्यादा लांघते हुए आरएएस यानि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को लेकर सभा के दौरान ही आपत्तिजनक टिप्पणी की जो ख़ासा चर्चा का विषय बनी रही.

ये भी पढ़ें- शाहीन बाग की तर्ज पर प्रयागराज में मुस्लिम महिलाओं ने CAA-NRC के खिलाफ संभाली मोर्चे की कमान...


लॉ एंड आर्डर पर फेल भाजपा सरकार ने पुराना टोटका अपनाया: अखिलेश यादव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 11:40 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर