Assembly Banner 2021

मेरठ में फिर तेंदुआ दिखने से ग्रामीणों में दहशत, वन विभाग ने शुरू किया सर्च ऑपरेशन

इलाके में तेंदुए की मौजूदगी के सबूत मिलने पर वन विभाग ने सर्च ऑपरेशन शुरू किया है (फाइल फोटो)

इलाके में तेंदुए की मौजूदगी के सबूत मिलने पर वन विभाग ने सर्च ऑपरेशन शुरू किया है (फाइल फोटो)

ग्रामीणों का दावा है कि बीती रात उन्होंने तेंदुए को कैमरे में कैद किया है. साथ ही यहां एक खेत में तेंदुए के तीन शावक (Leopard Cubs) भी मिले हैं. ग्रामीणों ने तेंदुआ शावक मिलने के स्थान से कुछ दूरी पर तेंदुआ होने का दावा करते हुए इससे जुड़े कुछ फोटो और वीडियो वायरल (Video Viral) किए हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 3:34 PM IST
  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) जिले में एक बार फिर तेंदुए ने दस्तक दी है. ग्रामीणों की मानें तो उन्होंने देर रात एक तेंदुए (Leopard) को कैमरे में कैद किया है. तेंदुए के इंसानी आबादी में घुस आने की वजह से ग्रामीणों में खौफ व्याप्त है. ग्रामीणों का दावा है कि यहां एक खेत में तेंदुए के तीन शावक (Leopard Cubs) भी मिले हैं. ग्रामीणों ने तेंदुआ शावक मिलने के स्थान से कुछ दूरी पर तेंदुआ होने का दावा करते हुए इससे जुड़े कुछ फोटो और वीडियो वायरल (Video Viral) किए हैं. एक वीडियो में कुछ लड़के रात में कार के अंदर से वीडियो बना रहे हैं. वीडियो में तेंदुआ मिट्टी की टीले पर आराम से बैठा हुआ नजर आ रहा है. इसके अलावा एक और वीडियो मे तेंदुआ खुले खेत मे बैठा दिख रहा है.

दरअसल पिछले एक सप्ताह से जड़ौदा और भड़ौली के ग्रामीणों द्वारा तेंदुआ देखे जाने की चर्चा है. मंगलवार को किसान गौरव और कुंवरपाल के खेत में शावक देखे जाने और उसके कुछ दूरी पर हरीराम के खेत में तेंदुआ देखे जाने का दावा किया है. वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि तेंदुए को पकड़ने के लिए सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है और दो टीमें लगाई गई हैं. उनका कहना है कि जो फोटो और वीडियो वायरल हो रही हैं उनकी मदद से तेंदुए की मूवमेंट पर नजर रखी जा रही है.

बता दें कि किठौर क्षेत्र के गांव भड़ौली और जड़ौदा के जंगलों में फरवरी माह में वन विभाग की टीम ने तेंदुआ परिवार होने की पुष्टि की थी. जिसके बाद टीम ने कई स्थानों पर पिंजरा लगाकर तेंदुए को पकड़ने का प्रयास किया था. लेकिन पर्याप्त संसाधनों के अभाव में एक्सपर्ट टीम भी तेंदुए को पकड़ नहीं पाई थी. बाद में सर्च ऑपरेशन में टीम को कुछ दिन तेंदुआ परिवार नहीं दिखने पर उसके पलायन कर जाने की बात कहते हुए अभियान बंद कर दिया गया था. डीएफओ राजेश कुमार का कहना है आपरेशन तेंदुआ फिर से शुरू कर दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज