अपना शहर चुनें

States

मेरठ: उस मुस्कान की वजह से कातिल बन गया शख्स, रोहटा में हुए हत्याकांड का सनसनीखेज खुलासा

मेरठ के रोहटा में हुए हत्याकांड में पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया है.
मेरठ के रोहटा में हुए हत्याकांड में पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया है.

मेरठ (Meerut) के थाना रोहटा के डालमपुर में 2 जनवरी को एक व्यक्ति की लाश एक स्कूल के पास मिली थी. शिनाख्त हुई तो ये शव गाज़ियाबाद के रहने वाले शमीम नाम के व्यक्ति का निकला. तकरीबन 18 दिन बाद पुलिस ने इस हत्याकांड का खुलासा कर दिया.

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश में मेरठ (Meerut) के रोहटा थानाक्षेत्र में हुए एक हत्याकांड (Murder Case) का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए 3 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से तमंचा, मृतक व्यक्ति का एटीएम कार्ड, मोबाइल और हत्या में प्रयुक्त कार भी बरामद कर ली गई है. हत्याकांड का तो खुलासा हो गया लेकिन इस कत्ल के मॉटिव को जानकर पुलिस भी हैरान रह गई.

थाना रोहटा के डालमपुर में बीती 2 जनवरी, 2021 को एक व्यक्ति की लाश एक स्कूल के पास मिली थी. शव की शिनाख्त हुई तो मालूम चला कि ये शव गाज़ियाबाद के रहने वाले शमीम नाम के व्यक्ति का है. इस हत्याकांड को लेकर पुलिस जुटी. आज तकरीबन 18 दिन बाद पुलिस ने इस हत्याकांड का खुलासा कर दिया.





मोटिव जानकर पुलिस हुई हैरान
एसपी देहात केशव कुमार ने बताया कि तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है, जिनके नाम मॉन्टी, राजू यादव और संदीप है. एसपी देहात ने बताया कि हत्याकांड का जो मोटिव सामने आया, वो हैरान करने वाला है. बताया गया कि मॉन्टी और शमीम एक ट्रांसपोर्ट में काम करते थे. ट्रांसपोर्ट शमीम के चाचा का ही था. शमीम और उनके चाचा के साथ ट्रांसपोर्ट में ही डेढ़ साल पहले दस बारह हज़ार रुपयों को लेकर विवाद हुआ. शमीम के चाचा ने कहा कि वो पैसे नहीं देंगे. यही नहीं डेढ़ साल पहले शमीम और उसके चाचा ने मिलकर बाद में मॉन्टी को पीटा भी था. साथ ही जब भी मॉन्टी कहीं शमीम से मिलता था तो शमीम मुस्कुरा देता था. शमीम की यही मुस्कुराहट मॉन्टी को खाए जा रही थी.

गोली मारकर शव ईंट से कुचला

लिहाज़ा डेढ़ साल पहले हुई इस रंजीश का बदला मॉन्टी ने बीती दो जनवरी को लिया. मॉन्टी ने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर साज़िश रची. जिसके तहत शमीम को गोली मार दी गई. बाद में शमीम की लाश को ईंट से कुचल दिया ताकि लाश पहचान में न आए. पुलिस ने बताया कि इन तीनों का कोई आपराधिक रिकॉर्ड फिलहाल संज्ञान में नहीं आया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज