Meerut: कोरोना संक्रमित दरोगा की मौत के बाद परिजनों ने काटा बवाल, लगाए ये आरोप

मृतक दरोगा कामिल की फाइल फोटो

मृतक दरोगा कामिल की फाइल फोटो

Meerut Corona Deaths: कामिल मेरठ के थाना टीपी नगर में तैनात थे. करीब 40 साल की उम्र के दरोगा को तेज बुखार और गले में दर्द की शिकायत थी. जिसके बाद परिजन ने उनका कोरोना टेस्ट करवाया जो पॉजिटिव आया.

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मेरठ (Meerut) जनपद में शनिवार देर रात कोरोना संक्रमण के चलते उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) के दरोगा कामिल (Sub Inspector Kamil) की मौत हो गई. कामिल की मौत पर परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया. परिजनों ने आरोप लगाया कि अस्पताल प्रशासन ने समय पर वेंटिलेटर नहीं लगाया, जिसके चलते दरोगा की मौत हो गई. देर रात घंटों तक मेरठ के आनंद अस्पताल में हंगामा चलता रहा. जिसके चलते कई थानों की फोर्स और पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। जहां पुलिस अधिकारियों ने परिजनों की बात सुनी. जिसके बाद अस्पताल प्रशासन से भी वार्ता का दौर चलता रहा.

हालांकि कामिल की मौत के बाद अब उसके सुपुर्द-ए-खाक की तैयारी की जा रही है. आपको बता दें कि कामिल मेरठ के थाना टीपी नगर में तैनात थे. करीब 40 साल की उम्र के दरोगा को तेज बुखार और गले में दर्द की शिकायत थी. जिसके बाद परिजन ने उनका कोरोना टेस्ट करवाया जो पॉजिटिव आया. जिसके बाद उन्हें मेरठ के आनंद अस्पताल में भर्ती कराया गया. पिछले 5 दिन से भर्ती कामिल की हालत लगातार बिगड़ती गई. उन्हें वेंटिलेटर की भी जरूरत पड़ गई और देर रात कामिल ने अस्पताल में अपनी आखिरी सांस ली.

अस्पताल में खत्म हो गई थी ऑक्सीजन

परिजनों में मौत को लेकर आक्रोश नजर आया, जिसके बाद हंगामा भी किया गया. आपको बता दें कि मेरठ के आनंद अस्पताल में देर रात ऑक्सीजन भी खत्म हो गई थी. जिसके चलते हड़कंप मच गया. आनन-फानन में कई मरीजों को अस्पताल से शिफ्ट कर दिया गया. जिसके बाद ऑक्सीजन बैकअप भी मंगवाया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज