होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /मेरठ: होटल में अवैध रूप से चल रहा था कसीनो, 10 विदेशी लड़कियों समेत 43 गिरफ्तार

मेरठ: होटल में अवैध रूप से चल रहा था कसीनो, 10 विदेशी लड़कियों समेत 43 गिरफ्तार

Meerut: होटल ओक ट्री में चल रहा था अवैध कसीनो

Meerut: होटल ओक ट्री में चल रहा था अवैध कसीनो

Meerut Police Raid: दिल्ली से सटे मेरठ में रियल लाइफ गैंबलिंग कसीनो में पुलिस ने रेड मार दी. मामला मेरठ के ओक ट्री होटल ...अधिक पढ़ें

मेरठ. यूपी के मेरठ जनपद में शनिवार देर रात पुलिस ने एक होटल में छापा मारकर अवैध रूप से चल रहे कसीनो का भंडाफोड़ किया. पुलिस की रेड पड़ते ही होटल में अफरा-तफरी मच गई. कार्रवाई के दौरान 10 नेपाली लड़कियों समेत 43 लोगों को गिरफ्तार किया गया. इसी के साथ महंगे मोबाइल, लग्जरी गाड़ियां, गैंबलिंग कॉइंस और ताश की गड्डियां बरामद हुई है. यानी अय्याशी और जुआ का हर वह सामान पुलिस ने बरामद किया जो अब तक फिल्मों में दिखाई देता था.

दिल्ली से सटे मेरठ में रियल लाइफ गैंबलिंग कसीनो में पुलिस ने रेड मार दी. मामला मेरठ के ओक ट्री होटल की है. मेरठ के दिल्ली देहरादून हाईवे पर बना यह होटल असल में अय्याशी का अड्डा बन चुका है. यहां पर जुआ खेला जाता है. विदेशी लड़कियों को अय्याशों के आगे परोसा जाता है और वह भी बिना लाइसेंस. पुलिस की सांठगांठ और पुलिस की नाक के नीचे यह पूरा रैकेट चल रहा था और स्थानीय पुलिस ने इस पर संज्ञान नहीं लिया. लेकिन एएसपी ब्रह्मपुरी विवेक चंद यादव ने देर रात रेड कर दी. जिसके बाद होटल में अफरा-तफरी मच गई.

आगे की कार्रवाई में जुटी पुलिस
खुद को छुपाने के लिए कोई टॉयलेट में बंद हो गया तो फिर कोई बेडरूम में घुस गया. जिसके बाद पुलिस ने एक-एक को पकड़ कर गिरफ्तार कर लिया. कुल 43 लोग मौके से गिरफ्तार हुए. बताया जा रहा है कि कोई शहर का नामी रईसजादा है तो कोई दिल्ली गुड़गांव से जुआ खेलने मेरठ आया था. जिसके बाद 10 विदेशी लड़कियों को देखकर तो पुलिस के होश ही उड़ गए. दरअसल अय्याशी के लिए विदेशी लड़कियों का इस्तेमाल किया जाता था, क्योंकि विदेशी लड़कियों को देख कर अय्याश मोटी रकम देते हैं. मेरठ पुलिस ने इस पूरे रैकेट का भंडाफोड़ कर दिया है. जिसके बाद आगे की कार्रवाई की तैयारी है. सभी आरोपियों को थाने में रखा गया है और अब मुकदमा दर्ज करके पुलिस इन पर कार्रवाई करेगी.

आपके शहर से (मेरठ)

Tags: Meerut city news, Meerut police, UP latest news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें