लाइव टीवी

जानिए क्या है मेरठ पुलिस का ऑपरेशन 'बिल्ली'...

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 12, 2019, 3:55 PM IST
जानिए क्या है मेरठ पुलिस का ऑपरेशन 'बिल्ली'...
मेरठ पुलिस का ऑपरेशन 'बिल्ली' (फाइल फोटो)

स्थानीय लोगों के मुताबिक दुकान के अंदर इतना सामान है, कि गोदाम का सारा सामान निकालकर बिल्ली को बाहर निकालने की ज़हमत कोई नहीं उठाता. लिहाज़ा ये बिल्ली इसी गोदाम के अंदर 3 सालों से कैद है.

  • Share this:
मेरठ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मेरठ (Meerut) में एक 'बिल्ली' (Cat) पिछले तीन वर्षों से एक दुकान के गोदाम में कैद है. आते-जाते राहगीर जब उसके रोने की आवाज सुनते हैं, तो रूक कर कुछ खाने-पीने का सामान दुकान की शटर के नीचे डाल देते हैं. इसके बाद भूखी बिल्ली (Hungry Cat) चुप हो जाती है और लोग चले जाते हैं. दुकान के मालिक (Shop Owner) ने भी कई बार शटर खोल कर बिल्ली को बाहर निकालने का प्रयास किया. लेकिन गोदाम के सामान से पूरा भरा होने के कारण वो इसे निकालने में नाकामयाब रहे.

दरअसल शनिवार को एक महिला ने बिल्ली के रोने की आवाज सुनकर उसका वीडियो संबंधित सदर बाजार थाने के थानाध्यक्ष को भेजा. वीडियो देखने के बाद एसओ पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचे और उन्होंने दुकान के शटर के अंदर से झांका, लेकिन बिल्ली को बाहर निकालने में वो भी असफल रहे. वो भी नहीं समझ सके कि आखिर गोदाम में फंसे बिल्ली का रेस्क्यू कैसे और कब किया जाएगा. वहीं अब आसपास के दुकानदार और स्थानीय निवासी इस बिल्ली को आज़ाद कराने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने की बात कर रहे हैं.

बीते तीन वर्षों से एक दुकान के अंदर कैद है बिल्ली
बीते तीन वर्षों से एक दुकान के अंदर कैद है बिल्ली


स्थानीय लोगों के मुताबिक दुकान के अंदर इतना सामान भरा है, कि सारा सामान निकालकर बिल्ली को आजाद कराने की जहमत कोई नहीं उठाता. लिहाजा बिल्ली इस गोदाम के अंदर बीते तीन वर्षों से कैद है. फिलहाल अब लगता है कि बिल्ली को निकालने के लिए मेरठ पुलिस को ऑपरेशन 'बिल्ली' चलाना पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें:

AIMPLB की बैठक पर मंत्री मोहसिन रजा ने उठाए सवाल, बोले- कौन कर रहा है फंडिंग

पुष्पेंद्र एनकाउंटर केस: हटाए गए झांसी के SP सिटी श्रीप्रकाश द्विवेदी
Loading...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 12, 2019, 3:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...