Home /News /uttar-pradesh /

थप्पड़ मारने की सजा मौत! पुलिस ने 36 घंटे में किया खुलासा

थप्पड़ मारने की सजा मौत! पुलिस ने 36 घंटे में किया खुलासा

सात महीन की प्‍लानिंग के बाद करवाई पत्‍नी की हत्‍या.

सात महीन की प्‍लानिंग के बाद करवाई पत्‍नी की हत्‍या.

बृजेश और रेखा की शादी को 20 साल हो गए थे. दोनों के तीन बच्चे हैं. एक बेटी की शादी नवंबर में होनी है. दंपति में अक्सर छोटी-छोटी बातों को लेकर विवाद रहता था.

    आपको याद होगा 23 जुलाई को मेरठ में एक महिला की दिनदहाड़े हत्या से सनसनी फैल गई थी. इस हत्याकांड का जब राजफाश हुआ तो सभी अवाक रह गए, क्योंकि कातिल घर के अंदर ही मौजूद था. दिनदहाड़े महिला को गोलियों से भुनवाने का आरोप किसी और पर नहीं उसके अपने सुहाग पर ही लगा है. इस शख्स पर आरोप है कि उसने अपनी पत्नी के कत्ल के लिए शूटर्स को एक लाख की सुपारी दी थी. पुलिस ने इस हत्याकांड पर से पर्दा उठाते हुए आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि शूटर्स की तलाश में दबिश दी जा रही है.

    पुलिस ने आरोपी पति को किया गिरफ्तार
    मेरठ में दिनदहाड़े माल रोड पर आटो में कत्ल की गई रेखा नाम की महिला की हत्या से पुलिस ने पर्दा उठा दिया है. आरोप है कि पति ने ही भाड़े के शूटर्स को एक लाख की सुपारी देकर हत्या कराई. पचास हजार की रकम शूटर्स को मुहैया करा दी गई थी. जबकि हत्या की वजह पत्‍नी से रोजाना परेशानी बताई जा रही है. आरोपी ने लालकुर्ती थाने में हत्या का जुर्म कबूल करते हुए बताया कि बच्चों के सामने ही रेखा उसकी पिटाई करती थी. उसकी रोजाना की हरकतों से परेशान आकर ही भाड़े के शूटर्स से हत्या कराने का षडयंत्र रचा.

    7 महीने से कर रहा था प्‍लानिंग
    बृजेश बेनीवाल नाम के इस आरोपी ने पत्नी रेखा की हत्या करने में सात माह की लंबी प्लानिंग की थी. उसके बावजूद भी वो पुलिस के हत्थे चढ़ गया. बृजेश ने बताया कि बेटी की शादी को लेकर विवाद ज्यादा बढ़ गया था. वह(बृजेश) गांव में शादी करना चाहता था.जबकि रेखा शहर में मंडप बुकिंग कर शादी करने का दबाव बना रही थी. इसको लेकर दोनों के बीच अनबन हो गई. जबकि रेखा ने अपने मायके में भी पति की शिकायत की थी. हालांकि बात-बात पर आरोपी अपनी पत्नी पर शक भी करता था.

    20 साल की शादी को ये हुआ अंजाम
    बृजेश और रेखा की शादी को 20 साल हो गए थे. दोनों के तीन बच्चे हैं. एक बेटी की शादी नवंबर में होनी है. दंपति में अक्सर ही छोटी-छोटी बातों को लेकर विवाद रहता था. पत्नी से आए दिन होने वाले विवाद के चलते बृजेश ने अपने कुछ साथियों से भाड़े के शूटर्स की जानकारी ली और फिर एक लाख में सौदा तय किया गया. पचास हजार की रकम हत्या से पहले दे चुका था और बाकी की रकम हत्या के बाद देनी तय हुई थी. 23 जुलाई को जुलाई को बृजेश से रेखा बार बार यह कहती रही कि उसे अस्पताल तक ही छोड़ दे. उसके बावजूद भी उसने रेखा को आटो में बैठा दिया. साथ ही दूर से शूटर्स को इशारा कर दिया. उसके बाद आरोपी वहां से अपने चाचा संजय के घर पहुंचा और वहां से चाचा के साथ बेटी की शादी की ज्वैलरी खरीदने के लिए बाजार चला गया. बाजार में ही उसे पुलिस ने रेखा की हत्या की खबर दी और फिर वो नाटक करते हुए वारदात वाली जगह पहुंचा था. जहां वो फूट-फूट कर रोया भी था. लेकिन कहते हैं न गुनाह कभी छिपता नहीं और गुनहगार कभी बचता नहीं. इसका गुनाह भी नहीं छिपा और मात्र 36 घंटे के अंदर ही उसके सारे षडयंत्र का राज़फाश हो गया.

     

    ये भी पढ़ें-क्या आप जानते हैं फसल बीमा की ये शर्तें, यूपी के किसानों को ऐसे मिलेगा लाभ!
    ...जब PM मोदी ने ममता बनर्जी के भतीजे से पूछा, आपकी आंख की चोट कैसी है?

    आपके शहर से (मेरठ)

    Tags: Meerut news, Murder, UP police

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर