होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /CM योगी की सख्ती से 5 महीने में ही बदली मेरठ के इस चोर मार्केट की सूरत, PM नरेंद्र मोदी ने भी की तारीफ

CM योगी की सख्ती से 5 महीने में ही बदली मेरठ के इस चोर मार्केट की सूरत, PM नरेंद्र मोदी ने भी की तारीफ

Meerut: 30 साल से चोरी के वाहन कटान के लिए कुख्यात सोतीगंज बाजार की सूरत योगी सरकार ने पांच महीने में ही बदल दी.

Meerut: 30 साल से चोरी के वाहन कटान के लिए कुख्यात सोतीगंज बाजार की सूरत योगी सरकार ने पांच महीने में ही बदल दी.

Meerut Sotiganj Market: पुलिस कार्रवाई के खौफ से पूरे बाजार में सन्नाटा पसरा हुआ है. पुलिस की ताबड़तोड़ कार्रवाई से सोत ...अधिक पढ़ें

मेरठ. यूपी के मेरठ (Meerut) में चोरी के वाहन पार्ट्स के लिए कुख्यात सोतीगंज बाजार (Sotiganj Market) पर कार्रवाई के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने योगी सरकार (Yogi Government) की पीठ थपथपाई थी. जिसके बाद से सोतीगंज की तस्वीर बदलनी शुरू हो गई.  जी हां, कल तक चोरी के वाहन पार्ट्स से यह बाजार गुलजार रहता था, लेकिन अब इसी कुख्यात बाजार में जूते, कपड़े और फ्रूट्स बिकेंगे. इतना ही नहीं पुलिस (Police) के खौफ से सोतीगंज के कबाड़ माफियाओं के हौसले पस्त हो गए हैं और अब खुद ही अपनी दुकानों पर नए धंधे के पोस्टर चिपका दिए हैं. पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए उनकी फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल कर रहे हैं.

यह तस्वीरें मेरठ के सोतीगंज बाजार की है. पुलिस कार्रवाई के खौफ से पूरे बाजार में सन्नाटा पसरा हुआ है. पुलिस की ताबड़तोड़ कार्रवाई से सोतीगंज का 30 साल का तिलिस्म टूट गया है. कुख्यात वाहन माफियाओं ने चोरी के वाहनों का धंधा करके अरबों की संपत्ति जुटाई थी, लेकिन अब योगीराज में पुलिस ने इस चोर बाजारी का धंधा करने वालों पर आंखें टेढ़ी कर ली है. पिछले 5 महीनों में पुलिस ने 32 से ज्यादा वाहन माफियाओं के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई को अंजाम दिया है. इसके अलावा इनका 40 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति को कुर्क कर लिया गया है. वहीं वाहन चोरी और चोरी के पार्ट्स बेचने वाले 100 से ज्यादा आरोपियों की क्राइम कुंडली तैयार कर ली गई है. पुलिस ने बकायदा ऐसे दुकानदारों को नोटिस भी जारी किए हैं और नोटिस का जवाब न देने तक दुकान बंद करवा दी है.

सत्ताधारी सफेदपोश नेताओं का था संरक्षण
आपको बता दें कि योगी सरकार आने से पहले सत्ताधारी सफेदपोश नेता इस चोर बाजार को संरक्षण देते थे. पिछले 30 सालों में अलग-अलग सरकारें आईं और कई पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी भी आए.लेकिन इस धंधे को बंद कराने की हिम्मत कोई नहीं जुटा पाया. लेकिन योगी सरकार में पिछले 5 महीनों में सोतीगंज की 30 साल पुरानी तस्वीर बदल गई. वाहन माफियाओं पर ताबड़तोड़ कार्रवाई से अब पश्चिम उत्तर प्रदेश नहीं बल्कि आसपास के राज्यों में वाहन चोरी की घटनाओं में गिरावट आई है. अहम बात यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद इस बात का संज्ञान लिया और सोतीगंज पर कार्रवाई के मामले में मंच से योगी सरकार की तारीफ कर डाली. जिसके बाद से सोतीगंज में चोरी के वाहन पार्ट्स का धंधा करने वालों के हौसले पस्त हो गए. और अब उन्होंने इस गोरखधंधे  को छोड़कर दूसरे कामकाज पर दिमाग लगाना शुरू कर दिया है.

आपके शहर से (मेरठ)

व्यापारियों ने कबाड़ के धंधे से किया किनारा
मेरठ के कुख्यात सोतीगंज बाजार में अब कपड़े, शू स्टोर और फ्रूट की दुकानें खुल गई हैं. दुकानों के बाहर रातों रात नई धंधों के पोस्टर टांग दिए गए हैं. जिसके बाद अब यह पोस्टर वाली दुकानों के फोटो वायरल हो रहे हैं. सोतीगंज के वाहन कबाड़ियों ने खुद पुलिस अधिकारी से मिलकर अपने शपथ पत्र सौंपें हैं.  साथ ही कहा कि अब वह इस कबाड़ के धंधे से ही किनारा कर रहे हैं.

Tags: Meerut Crime News, Meerut news, Uttar pradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें