छेड़छाड़ का विरोध करना पड़ा महंगा, इलाज के दौरान मेरठ की छात्रा ने दम तोड़ा

आरोपी युवकों ने पीड़िता को रास्ते में रोककर जबरन मोबाइल फोन देते हुए उसे धमकी दी थी कि अगर वह रात को उनसे बात नहीं करेगी तो इसके परिणाम की जिम्मेदार वह खुद होगी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 4, 2018, 2:43 PM IST
छेड़छाड़ का विरोध करना पड़ा महंगा, इलाज के दौरान मेरठ की छात्रा ने दम तोड़ा
सांकेतिक तस्वीर
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 4, 2018, 2:43 PM IST
मेरठ में एक लड़की ने मनचलों से परेशान होकर खुद को आग के हवाले कर दिया था. मंगलवार को आग के हवाले की गई सरधना की छात्रा की नई दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई. वहां पर पोस्टमार्टम के बाद आज छात्रा का शव सरधना लाया जाएगा. घटना सरधना के गांधीनगर मास्टर कॉलोनी की है. जहां 10वीं में पढ़ने वाली नाबालिग छात्रा को कस्बे के रहने वाले राजवंश बागड़ी, रोहित सैनी, अमन और दीपक छोड़छाड़ और अश्लील हरकत किया करते थे.

आरोपी युवकों ने पीड़िता को रास्ते में रोककर जबरन मोबाइल फोन देते हुए उसे धमकी दी थी कि अगर वह रात को उनसे बात नहीं करेगी तो इसके परिणाम की जिम्मेदार वह खुद होगी. आरोपियों ने उसका विडियो बनाकर वायरल करने की भी धमकी दी थी. छात्रा ने इस बात की जानकारी अपने परिजनों को दी.

युवती के पिता लड़कों के परिजनों से मिले. वहीं लड़के के परिजनों ने उल्टा आरोप लड़की पर ही लगाना शुरु कर दिया, अपनी बेइज्जती महसूस कर लड़की ने मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा ली. फिलहाल पीड़िता को सरधना के सरकारी अस्पताल से उसे मेरठ के लिए रेफर कर दिया गया. पीड़िता के पिता ने योगी और मोदी से इंसाफ की गुहार लगाई है. एसएसपी राजेश पांडेय ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है. जल्द ही सभी की गिरफ्तारी की जाएगी.

(रिपोर्ट: निखिल अग्रवाल)

ये भी पढ़ें:

कुंभ मेले में बनेंगे 40 थाने और 59 चौकियां, वैदिक मंत्रोच्चार के साथ हुआ भूमि पूजन

नोएडा: छात्राओं से वेश्यावृत्ति कराने वाले गैंग का भंडाफोड़, WhatsApp से होती थी बुकिंग

BHU में शुरू हुआ अनोखा कोर्स, मिलेगी 'आदर्श बहू' बनने की ट्रेनिंग
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर