आपत्तिजनक हालत में मिले जोड़े, सोशल मीडिया से चल रहा था सेक्स रैकेट

जिस मकान में यह छापा मारा गया, उस मकान में 10 माह का बच्चा पुलिस के हाथ लगा. महिलाओं से जब उसके बारे में पूछा गया तो तीनों महिलाएं उसे अपना बताने लगीं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 14, 2019, 6:08 PM IST
आपत्तिजनक हालत में मिले जोड़े, सोशल मीडिया से चल रहा था सेक्स रैकेट
पॉश कॉलोनियों में चल रहा था सेक्स रैक्ट
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 14, 2019, 6:08 PM IST
यूपी के मेरठ(meerut) में रेड लाइट एरिया बंद होने के बाद जिस्म का व्यापार(prostitution) करने वालों ने नए तरीके खोज लिए. इन्होंने अपना नया ठिकाना बनाया शहर की पॉश कॉलोनियों को. यहां पुलिस ने दो कमरों से कई महिला और युवकों को आपत्तिजनक हालत में पकड़ा. यहां से एएचटीयू की टीम ने तीन महिलाओं समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि यह गिरोह जगह बदल-बदलकर देह व्यापार कर रहा था.

पुलिस को सूचना मिली थी कि गंगानगर की एक पॉश कॉलोनी ने कुछ इस तरह का धंधा फलफूल रहा है. पुलिस ने जब यहां छापा मारा तो दो महिलाएं व एक पुरुष को एक कमरे से, तो दूसरे कमरे से एक युवक व एक महिला को आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा.

सोशल मीडिया से चलता था सेक्स रैकेट
पुलिस ने बताया कि एएचटीयू को पहले कसेरूखेड़ा क्षेत्र में किराए के मकान में देह व्यापार की सूचना थी. बाद में पता चला कि यहां से कमरा खाली कर गंगानगर में लिया गया है. यहां लड़कियों के फोटो मोबाइल पर भेजे जाते थे. इसको लेकर गंगानगर में इस गिरोह से कई युवक जुड़े थे. शहर के पॉश इलाकों में ये गिरोह फैला हुआ है.

शक ना हो इसलिए बच्चा रखती थी साथ
जिस मकान में यह छापा मारा गया, उस मकान में 10 माह का बच्चा पुलिस के हाथ लगा. महिलाओं से जब उसके बारे में पूछा गया तो तीनों महिलाएं उसे अपना बताने लगीं. मौके पर जुटे लोग इस खुलासे से खासे हैरान थे. कुछ लोगों ने कहा कि उन्हें कई बार शक भी हुआ लेकिन बच्चा साथ होने के कारण वह हर बार इन महिलाओं को नजर अंदाज करते रहे. पुलिस के अनुसार यह महिलाएं बच्चा इसी लिए साथ रखतीं थीं, ताकि किसी को शक न हो.

बदल देते थे ठिकाना
Loading...

पूछताछ के दौरान आरोपी नरेश ने बताया कि कुछ समय से देह व्यापार पर शहर में सख्ती बढ़ी है. पुलिस ने कई जगह छापेमारी की और काफी लोगों को जेल भेजा. इसलिए वे एक स्थान पर किराए पर ज्यादा दिन नहीं रहते थे. वैसे भी मकान मालिक को पैसे से मतलब होता था इसलिए वह पूरा पैसा देकर चलते थे.

ये भी पढ़ें:

यूपी के बागपत में ग्रेनेड-बंदूकों के साथ युवक की फोटो Viral

रेप केस: सीतापुर जेल के बंदी रक्षक से पूछताछ करेगी CBI

 
First published: August 14, 2019, 5:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...