लाइव टीवी

मिशन यूपी: जेडीयू-रालोद का विलय तय, नए नाम, नए सिंबल के साथ लड़ेंगे चुनाव

Pradesh18
Updated: February 15, 2016, 9:34 AM IST
मिशन यूपी: जेडीयू-रालोद का विलय तय, नए नाम, नए सिंबल के साथ लड़ेंगे चुनाव
हालांकि यह विलय बिहार के महागठबंधन से भी एक कदम आगे होगा. इसके तहत दोनों पार्टियां एक नए नाम और नए चुनाव चिन्ह के साथ मैदान में उतेरेंगी.

हालांकि यह विलय बिहार के महागठबंधन से भी एक कदम आगे होगा. इसके तहत दोनों पार्टियां एक नए नाम और नए चुनाव चिन्ह के साथ मैदान में उतेरेंगी.

  • Pradesh18
  • Last Updated: February 15, 2016, 9:34 AM IST
  • Share this:
महागठबंधन को बिहार में मिली अप्रत्याशित जीत के बाद जेडीयू ने इसी तर्ज पर उत्तर प्रदेश में भी गठबंधन करने का प्लान बनाया है. इसी के तहत 2017 में होने वाले यूपी चुनावों के लिए जनता दल यूनाइटेड और राष्ट्रीय लोक दल का विलय भी सुनिश्चित हो गया है. इस संदर्भ में औपचारिक घोषण इस महीने के अंत तक हो सकती है.

हालांकि यह विलय बिहार के महागठबंधन से भी एक कदम आगे होगा. इसके तहत दोनों पार्टियां एक नए नाम और नए चुनाव चिन्ह के साथ मैदान में उतेरेंगी.

इंग्लिश डेली टाइम्स ऑफ़ इंडिया के साथ बातचीत में रालोद के महासचिव अजित सिंह के बेटे जयंत चौधरी ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि दोनों पार्टियों में इस बात पर सहमति बन गई है कि आगामी विधान सभा चुनाव में वे एक नए पार्टी और सिंबल के साथ चुनाव लड़ेंगीं. 'इसमें कुछ समय और लग सकता है लेकिन आने वाले दिनों में इस संबंध में औपचारिक घोषणा कर दी जायेगी.'

जयंत ने कहा कि राज्य की एनी छोटी पार्टियों जैसे महान दल और पीस पार्टी को भी इस गठबंधन में शामिल करने की बातचीत चल रही है. उन्होंने कहा कि अपनी बेटी और संसद अनुप्रिया पटेल से अलग हुए अपना दल लीडर कृष्णा पटेल ने भी इस मोर्चे को ज्वाइन करने की इच्छा जाहिर की है.

जयंत ने कहा , 'हम सभी के पास एक सामान मौका है अब देखना यह है कि आने वाले दिनों किस तरह से साड़ी चीजें गठित होती है.' सूत्रों के मुताबिक गठबंधन होने पर, रालोद अपने गढ़ पश्चिमी उत्तर प्रदेश में फोकस करेगा तो वहीँ जेडीयू, महान दल और पीस पार्टी मध्य और पूर्वांचल में फोकस करेंगी.

सूत्रों की मानें तो इस तरह के गठबंधन के पीछे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सोच है. और उनके इस आईडिया को झारखण्ड के पूर्व मुक्यमंत्री बाबूलाल मरांडी का भी समर्थन प्राप्त है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 15, 2016, 9:02 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर