अपना शहर चुनें

States

UP में बच्चा चोरी की अफवाह जोरों पर, बेगुनाहों को शिकार बना रही है भीड़

पीट-पीटकर हत्या का कथित वीडियो वायरल, पुलिस ने बताया फेक  (प्रतीकात्मक तस्वीर)
पीट-पीटकर हत्या का कथित वीडियो वायरल, पुलिस ने बताया फेक (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पश्चिम यूपी में पिछले 5-6 दिनों में कई ऐसे मामले आए जिसमें भीड़ ने अफवाह के चलते कई लोगों की जान लेने की कोशिश की.

  • Share this:
जावेद मंसूरी

देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बच्चा चोरी की अफवाह जोर पकड़ती जा रही है. पिछले कई दिनों में बच्चा चोरी की अफवाह (Rumours of Child Lifting) के चलते भीड़ ने कई बेगुनाहों को अपना शिकार बनाया. पश्चिम यूपी (Western UP) में पिछले 5-6 दिनों में कई ऐसे मामले आए जिसमें भीड़ ने अफवाह के चलते कई लोगों की जान लेने की कोशिश की. दहशत इतनी फैल गई है कि पुलिस (Police) के आला अफसर खुद इलाकों में जाकर मुनादी कर रहे हैं कि अफवाह ना फैलाएं. साथ ही मंदिर-मस्जिदों से ऐलान करवाया जा रहा है कि अफवाहों पर ध्यान ना दें.

केस नंबर 1: तारीख-24 अगस्त,  दिन-शनिवार, स्थान-हापुड़
हापुड़ के पिलखुआ में बच्चा चोरी के आरोप में एक बुजुर्ग महिला के साथ मारपीट की गई. घटना रगुनाथपुर इलाके की है. किसी तरह महिला को बचाया गया. पुलिस ने इस मामले में महिला से मारपीट करने वाले 6 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.
केस नंबर 2: तारीख-25 अगस्त,  दिन-रविवार, स्थान-मेरठ


मेरठ में बच्चा चोरी का आरोप लगा भीड़ ने युवक को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया. मामला किठौर थाना क्षेत्र के शाहजहांपुर गांव का है. बताया जाता है कि गांव में एक युवक अजीब से हुलिए में घूम रहा था. इसी दौरान गांव के कुछ शरारती युवकों ने बच्चा चोर का शोर मचाते हुए युवक को घेर लिया. उधर शोर सुनकर एकत्र हुए ग्रामीणों ने भी बिना सच्चाई जाने युवक की ताबड़तोड़ पिटाई करनी शुरू कर दी. लहूलुहान युवक अपनी बेगुनाही की दुहाई देता रहा मगर पिटाई करने वालों पर उसकी चीख चिल्लाहट का कोई असर नहीं हुआ. घटना की जानकारी के बाद आनन-फानन में पुलिस मौके पर पहुंची और युवक को भीड़ के चंगुल से छुड़ाकर थाने ले गई. पूछताछ के दौरान युवक ने अपना नाम हरियाणा निवासी आजाद बताया. आजाद ने बताया कि वह गढ़मुक्तेश्वर में झुग्गी झोपड़ी में रहकर जड़ी-बूटी बेचने का काम करता है. रविवार को भी वो शाहजहांपुर गांव में जड़ी-बूटी बेचने आया था. इसी बीच कुछ लोगों ने उस पर बच्चा चोरी का आरोप लगाते हुए उसकी पिटाई शुरू कर दी. उधर, पुलिस ने युवक द्वारा बताए गए पते तस्दीक की तो उसकी बात में सच्चाई पाई गई. वहीं, गांव से भी किसी शिकायतकर्ता द्वारा कोई बच्चा चोरी होने की तहरीर नहीं दी गई. पुलिस ने अफवाह फैलाकर मारपीट करने वालों 8 आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है.

केस नंबर 3: तारीख-26 अगस्त,  दिन-सोमवार, स्थान-बुलंदशहर
बुलंद शहर के खुर्जा में बच्चा चोरी के शक में एक और युवक की पिटाई की गई. बच्चा चोरी का शक जताते हुए आधा दर्जन लोगों ने एक मंद बुद्धि युवक को बेरहमी से पीटा. ये पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. मौके पर पंहुची पुलिस पीड़ित युवक को बचाकर थाने ले आई. पुलिस ने केस दर्ज कर मारपीट करने वालों और अफवाह फैलाने वालो पर कार्यवाही कर रही है.

केस नंबर 4: तारीख-26 अगस्त,  दिन-सोमवार, स्थान-कैराना
शामली के कैराना कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला घोसा चुंगी में पांच महिलाएं रस्सी बेच रही थी. उसी दौरान मोहल्ले के लोगों ने बच्चा चोर गैंग कहकर शोर मचा दिया. जिसके बाद देखते ही देखते भीड़ इकट्ठा हो गई और जिसके बाद भीड़ ने महिलाओं की जमकर पिटाई की. भीड़ में मौजूद लोगों और महिलाओं ने पांचों महिलाओं की जमकर धुनाई की. मौके पर पहुंची पुलिस ने पांचों महिलाओं को भीड़ से छुड़वाया और उन्हें थाने ले आई. पुलिस द्वारा महिलाओं को थाने लाए जाने के बाद भी भीड़ शांत नहीं हुई और पुलिस के साथ ही भीड़ थाने आ पहुंची जिसके बाद पुलिस ने भीड़ को तीतर-बीतर किया. पुलिस ने थाने में महिलाओं से पूछताछ की तो पता चला कि पांचों महिलाएं रस्सी बेचने का काम करती है और रस्सी बेचने के लिए ही वह कैराना आई थी. पांचों महिलाएं गुजरात की रहने वाली है.

शामली में यह कोई पहला मामला नहीं है जब बच्चा चोरी करने की अफवाह फैलाकर भीड़ ने किसी को पीटा हो. इससे पहले भी शामली में कई मामले सामने आ चुके हैं. बीती 21 अगस्त को कांधला थाना क्षेत्र के एक गांव में साधु के भेष में भीख मांग रहे एक युवक को बच्चा चोर बताकर उसकी धुनाई करते हुए पुलिस को सौंप दिया था तो वहीं दूसरी ओर कांधला थाना क्षेत्र के ही एक गांव मे बच्चा चोरी का शोर मचाकर नेपाल के एक भीख मांगने वाले युवक की भीड़ ने जमकर धुनाई कर दी थी और उसे पुलिस को सौंप दिया था.

मेरठ रेंज में एक भी मामला बच्चा चोरी का नहीं : आईजी 
बच्चा चोरी की घटना पर न्यूज18 ने मेरठ रेंज के आईजी आलोक सिंह ने बताया कि जिस तरह चोटी कटवा की अफवाह फैली थी, उसी तरह अब बच्चा चोरी की अफवाह फैल रही है. मेरठ रेंज में एक भी मामला बच्चा चोरी का नहीं आया है. बच्चा चोरी की बात महज अफवाह है. लोगों से अपील है कि अफवाहों पर ध्यान ना दें. बच्चा चोरी के नाम पर मारपीट और अफवाह फैलाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी. इस मामले में कई लोगों की गिरफ्तारी भी की है. पुलिस प्रशासन सामाजिक, धार्मिक लोगों के माध्यम से लोगों को जागरूक करने का काम कर रहा है.

बहरहाल, पिछले कुछ दिनों में पश्चिम यूपी के बुलंदशहर में 6-7 मामले, हापुड़ में एक, बागपत में एक, मेरठ में दो, शामली में तीन और गाजियाबाद में एक बच्चा चोरी के आरोप में मारपीट और अफवाह के मामले सामने आए हैं. ऐसी अफवाहों से निपटने के लिए पुलिस पूरी कोशिश कर रही है. मेरठ रेंज के तहत अब तक 13 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

ये भी पढ़ें- 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज