1000 रुपये के लिए कर दी हत्या, तेजाब से चेहरा जलाकर लाश को जंगल में फेंका

मेरठ में महज 1000 रुपये के लिए एक युवक को मौत के घाट उतार दिया गया. आरोपी पिता-पुत्र और उनके बहनोई ने रात को ई-रिक्शा की बैटरी से तेजाब निकालकर मृतक का चेहरा जला दिया. लाश को संदूक में बंद करके जंगल में फेंक दिया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 10, 2019, 11:53 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 10, 2019, 11:53 AM IST
मेरठ जिले में महज एक हजार रुपये के लिए एक युवक को मौत के घाट उतार दिया गया. इतना ही नहीं आरोपी पिता-पुत्र और उनके बहनोई ने पुलिस से बचने के लिए रात को ई-रिक्शा की बैटरी से तेजाब निकालकर मृतक का चेहरा जला दिया. लाश को संदूक में बंद करके जंगल में फेंक दिया. हालांकि अब पुलिस ने इस मामले का खुलासा कर दिया है.

एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि लिसाड़ी गेट पुलिस ने बक्से में शव के पास से बरामद हुए एक बिजली के बिल के सहारे लिसाड़ी गेट क्षेत्र के मेवगढ़ी मजीद नगर निवासी इश्तियाक और उसके पुत्र रईस सहित इश्तियाक के बहनोई हकीमुद्दीन को गिरफ्तार किया है. पूछताछ के दौरान इश्तियाक ने बताया कि उसने लगभग एक वर्ष पूर्व मृतक बलबीर के भाई से एक ई-रिक्शा खरीदा था, जिसमें से 72 हजार रुपये की रकम का भुगतान तभी कर दिया गया था मगर एक हजार की रकम बकाया रह गई थी.

बलबीर कर रहा था एक हजार का तकादा
बकौल पुलिस पूछताछ के दौरान इश्तियाक ने बताया कि बलबीर पिछले काफी समय से बकाया एक हजार की रकम का तकादा कर रहा था, जिसके चलते इश्तियाक उससे रंजिश रखने लगा था. घटना वाले दिन इश्तियाक के पुत्र रईस ने बलबीर को एक हजार रुपये देने के लिए हापुड़ अड्डा चौराहे पर बुलाया. इसके बाद रकम देने के बहाने रईस बलबीर को अपने घर ले गया. रईस ने अपने सभी परिजनों को बहाने से घर के बाहर भेज दिया और नशीली कोल्ड ड्रिंक पिलाने के बाद ईंट से वार कर बलबीर को अधमरा कर दिया.

गला घोंटकर कर दी हत्या
इसके बाद रईस और उसके पिता इश्तियाक ने गला घोंटकर बलबीर की हत्या कर दी. घटना वाले दिन चांद रात होने और सड़क पर पुलिस का कड़ा पहरा होने के चलते आरोपियों ने बलबीर के शव को बक्से में बंद कर अपने घर में छुपा दिया. इसके बाद रात को ई-रिक्शा की बैटरी से तेजाब निकालकर मृतक का चेहरा जलाया और बक्से को खाली प्लॉट में फेंक दिया.

तीनों आरोपी दबोचे गए
Loading...

एसएसपी ने बताया कि आरोपी किसी कबाड़ी को बलवीर का ई-रिक्शा बेचने के फिराक में घूम रहे थे. मगर पुलिस ने तीनों आरोपियों को दबोच कर उनके पास से बलवीर का ई-रिक्शा, हत्या में प्रयुक्त ईंट और अन्य सामान बरामद कर लिया. पकड़े गए तीनों आरोपियों को पुलिस जेल भेजने की तैयारी कर रही है.

(रिपोर्ट – निखिल अग्रवाल)

ये भी पढ़ें - 

सुभारती विश्वविद्यालय के गेट पर गार्ड की गोली मारकर हत्या

पिता ने सोते हुए अपने 4 बच्चों को कैंची से गोदा, एक की मौत

अलीगढ़ मर्डर केस: जानिए 'टप्पल गांव' की इनसाइड स्टोरी

मुलायम की तबीयत में सुधार, अस्पताल से देर रात हुए डिस्चार्ज
First published: June 10, 2019, 11:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...