94 करोड़ की CGST चोरी में गिरफ्तार हुआ मुजफ्फरनगर का कारोबारी

खुद को ट्रेडर दिखाकर विकल्प जैन लंबे समय से माल को गंतव्य तक भेजने का काम करता था और इसके लिए वह फर्जी कंपनियों के फर्जी ई-बिल बनाता था. जीएसटी लागू होने से पहले विकल्प जैन व्यापार कर से जुड़े अभिलेख भी बनाया करता था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 13, 2018, 11:28 AM IST
94 करोड़ की CGST चोरी में गिरफ्तार हुआ मुजफ्फरनगर का कारोबारी
मेरठ सेंट्रल जीएसटी ऑफिस
News18 Uttar Pradesh
Updated: October 13, 2018, 11:28 AM IST
केंद्रीय खुफिया विभाग की टीम ने मुजफ्फरनगर के कारोबारी को CGST की चोरी के मामले में गिरफ्तार किया है. इस व्यापारी ने फर्जी ई-बिल के जरिये 94 करोड़ रूपये से ज्यादा का केंद्रीय जीएसटी चोरी किया है. सेंट्रल जीएसटी और खुफिया विभाग की टीम कई महीनों से इस चोरी की जांच कर रही थी. जेल भेजा गया विकल्प जैन मुजफ्फरनगर नगरपालिका के वार्ड संख्या-34 से सभासद भी है.

मेरठ के डिप्टी कमिश्नर सेंट्रल जीएसटी शशांक यादव ने बताया कि मुजफ्फरनगर के पटेलनगर निवासी विकल्प जैन का खुद का ट्रेडिंग का कारोबार है. शहर की कई फैक्ट्रियों से निकलने वाले माल का लेखाजोखा भी विकल्प के पास रहता है. खुद को ट्रेडर दिखाकर विकल्प जैन लंबे समय से माल को गंतव्य तक भेजने का काम करता था और इसके लिए वह फर्जी कंपनियों के फर्जी ई-बिल बनाता था. जीएसटी लागू होने से पहले विकल्प जैन व्यापार कर से जुड़े अभिलेख भी बनाया करता था. सेंट्रल जीएसटी के अफसरों की टीम विकल्प जैन पर लंबे वक्त से नजर रखे हुए थी.

विकल्प जैन लंबे वक्त से फर्जी ई-बिल के जरिये टैक्स चोरी की जा रही है. मामला बड़ा होने की वजह से केस की जांच केंद्रीय खुफिया विभाग को सौंपी गई थी. विभाग के जांच अफसरों ने विकल्प जैन के ट्रेडिंग से अभिलेखों की जांच की और करोड़ो रूपये की सीजीएसटी की चोरी पकड़ी. विकल्प जैन को अपनी सफाई में तथ्य रखने का मौका भी दिया गया. लेकिन जब जैन अभिलेखों के मुताबिक वह खुद को साबित नहीं कर पाया तो विभाग ने विकल्प जैन के खिलाफ केस दर्ज करा कर उसे गिरफ्तार करा दिया. वहीं जांच में अब तक 94 करोड़ रूपये की सीजीएसटी की चोरी होने की पुष्टि हुई है.

गिरफ्तारी के बाद विकल्प जैन को मेरठ में स्पेशल सीजेएम की अदालत में पेश किया गया. सुनवाई के बाद कोर्ट ने विकल्प जैन को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

(रिपोर्ट: निखिल अग्रवाल)

ये भी पढ़ें:

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू पहुंचे इलाहाबाद, ये रहा पूरा शेड्यूल
Loading...

मुगलसराय: लालकुंआ एक्सप्रेस की चपेट आकर 5 यात्रियों की दर्दनाक मौत

मायावती के बंगले के बाद योगी आदित्यनाथ ने शिवपाल यादव को दी जेड-प्लस सुरक्षा

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर