• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • MEERUT OXYGEN CONTRACTOR MAKING IN MEERUT ITI STUDENT AGREEMENT WITH US COMPANY NODELSP

ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का हब बनेगा मेरठ, अमेरिकी गुरु के मंत्र से ITI छात्रों ने शुरू किया निर्माण

मेरठ: आईटीआई के छात्र बना रहे ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, अमेरिकी कंपनी से हुआ करार.

मेरठ में साकेत आईटीआई के छात्र- छात्राओं ने आने वाले दिनों में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का जखीरा बनाएंगे. इसकी शुरुआत हो गई है. अमेरिकी गुरु इन छात्र छात्राओं को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बनाने के गुर सिखाएंगे. इसकी कीमत महज सवा लाख होगी. जबकि ऐसे ही कंसंट्रेटर की कीमत बजार में लगभग 5 लाख है.  

  • Share this:
मेरठ. मेरठ ( Meerut ) में साकेत आईटीआई (ITI) के छात्र- छात्राओं ने आने वाले दिनों में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर ( Oxygen Concentrator) का जखीरा बनाएंगे. इसकी शुरुआत हो गई है. अमेरिकी गुरु इन छात्र छात्राओं को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बनाने के गुर सिखाएंगे. माना जा रहा है कि जून के पहले सप्ताह में पांच सौ कंस्ट्रेटर बनकर तैयार हो जाएंगे. आने वाले दिनों में हजारों कंसंट्रेटर बनाने की योजना है.

बीते दिनों ऑक्सीजन को लेकर खूब मारामारी रही. सरकारों ने इस कमी को दूर करने में युद्ध स्तर पर प्रयास किए हैं, लेकिन आने वाले दिनों में मेरठ देश के कोने कोने और दूसरे देशों में भी कंसंट्रेटर भेजने की योजना बना रहा है. ऑक्सीजन कंसंट्रेटर को लेकर मेरठ में साकेत आईटीआई ने सकारात्मक कदम आगे बढ़ाए हैं. आईटीआई के छात्र- छात्राओं ने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बनाने का बीड़ा उठाया है. इसे लेकर बाकयदा ट्रेनिंग भी शुरू हो गई है. अमेरिका से आए गुरु इन छात्र छात्राओं को आजकल कंसंट्रेटर एसेम्बल करने के टिप्स दे रहे हैं. यहां ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के लिए अमेरिका की एक कंपनी से करार हुआ है.

राजकीय औद्योगिक शिक्षण संस्थान साकेत में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर अमेरिका की निर्माता कम्पनी के अधिकारी माहेर दाउदी निरीक्षण करने पहुंचे. उन्होंने एक सेमिनार को भी सम्बोधित किया. प्रिंसिपल ने बताया कि पहले फेज में 15 सौ ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बनाने का लक्ष्य है. जबकि आने वाले दिनों में 10 से 20 हजार मशीन तैयार की जाएंगी. स्पोर्ट्स कारोबार की तरह मेरठ के उद्यमियों से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर तैयार करने का प्रस्ताव भी रखा जाएगा, ताकि 50 हजार से ज्यादा मशीनें जल्द से जल्द तैयार कर सकें. उद्योगपति विवेक कोहली और आईटीआई साकेत के चेयरमैन ने इसे पूरा सहयोग दिया है. उन्होंने बताया कि अभी तक सामान्य रूप से जो कंसंट्रेटर मिलते हैं उनकी कीमत भी काफी है. यहां जो कंस्ट्रेटर तैयार किए जाएंगे वो 15-20 लीटर की कैपेसिटी का होगा. इसकी कीमत महज सवा लाख होगी. जबकि ऐसे ही कंसंट्रेटर की कीमत बजार में लगभग 5 लाख है.

अभी शुरुआत में जो 1500 कंसंट्रेटर बनाए जाएंगे. उनके पार्ट बाहर से आएंगे और उन्हें यहां असेम्बल किया जाएगा, लेकिन बाद में मेरठ के साथ -साथ हिंदुस्तान में ही इस के पार्ट बनवाने के प्रयास किये जायेंगे. इस दौरान ऑक्सीकिट के आविष्कारक एवम निर्माता ह्यड्ड से आये मेहार दाउदी ने कहा कि उन्होंने ऑक्सीकिट को बनाया है और ओपन सोर्स कर दिया है, जिससे इसे कोई भी असेम्बल कर सके. वाकई में ऐसे संकटकाल में आईटीआई की ये पहल यकीनन सराहनीय है. कह सकते हैं कि आने वाले दिनों में मेरठ स्पोर्ट हब के साथ साथ अब ऑक्सीजन कंसंट्रेटर हब के रूप में भी पहचाना जाएगा.