Assembly Banner 2021

राज्यसभा सांसद कांता कर्दम कोरोना पॉजिटिव, मेरठ में एक ही गली से 11 मरीज मिलने से हड़कंप

मेरठ में राज्यसभा सांसद कांता कर्दम कोरोना पॉजिटिव हो गई हैं.

मेरठ में राज्यसभा सांसद कांता कर्दम कोरोना पॉजिटिव हो गई हैं.

Meerut News: मेरठ में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने लगा है. मेरठ में कोरोना के 28 नए केस मिलने के साथ ही यहां मरीजों का कुल आंकड़ा 21583 हो गया है. कोरोना से कुल मरने वालों का आंकड़ा 409 है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 1:06 PM IST
  • Share this:
मेरठ. कोरोना (COVID-19) धीरे-धीरे वेस्ट यूपी में एक बार फिर तेजी से पैर पसार रहा है. अकेले मेरठ (Meerut) में बीते चौबीस घंटे के अंदर 28 नए केस रिपोर्ट हुए हैं. राज्यसभा सांसद कांता कर्दम (Rajyasabha MP Kanta Kardam) भी कोरोना पॉज़िटिव (Corona Positive) पाई गई हैं. यही नहीं यहां एक मोहल्ले में एक ही गली के 11 लोग भी कोरोना संक्रमित मिले हैं. सीएमओ डॉक्टर अखिलेश मोहन का कहना है कि पहले के मुकाबले में कोरोना ज्यादा इन्फेक्टिव हैं. उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में महाऱाष्ट्र और पंजाब से लोग यहां आए हैं. संभवत: उन्हीं की वजह से यहां कोरोना फैल रहा है.

सीएमओ ने कहा कि कॉन्टैक्ट जितने ज्यादा पकड़ेंगेए उतने ज्यादा हम कोरोना को कंट्रोल कर पाएंगे. एक घर में 11 लोगों के कोरोना पॉज़िटिव मिलने पर सीएमओ ने कहा कि किसी फंक्शन में ये लोग आपस में मिले थे. उन्होंने बताया कि इन लोगों में सभी में सिम्पटम नहीं हैं. उनको क्वारेंटाइन कर दिया गया है. सीएमओ ने बताया कि राज्यसभा सांसद कांता कर्दम भी कोरोना पॉज़िटिव हो गई हैं.

मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग न होने की वजह से कोरोना फैल रहा: सीएमओ



सीएमओ का कहना है कि ये चैलेंज बहुत बड़ा है. लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क कतई नहीं छोड़ना है. अगर लोग इसका पालन ठीक से कर लें तो कोई चैलेंज नहीं है. सीएमओ का कहना है कि मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग न होने की वजह से कोरोना फैल रहा है. सीएमओ डॉक्टर अखिलेश मोहन का कहना है कि दो गज़ की दूरी मास्क है ज़रुरी. अगर लोग इसका पालन कर लेंगे तो कोरोना रुक जाएंगे. वहीं वैक्सीनेशन को लेकर उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने वैक्सीन लगवा लिया है उनकी जान का ख़तरा नहीं है.
बता दें मेरठ में कोरोना के 28 नए केस मिलने के साथ यहां कोरोना मरीजों का कुल आंकड़ा 21583 हो गया है. जबकि कोरोना से कुल मरने वालों का आंकड़ा 409 है. यहां 5 और लोगों ने कोरोना को मात भी दी है. कोरोना को मात देने वालों का कुल आंकड़ा 21023 हो गया है.

रिएलिटी चेक में लोग दिखे लापरवाह

पश्चिमी उत्तरप्रदेश में भी कोरोना के केसेज़ में रोज़ाना बढ़ोत्तरी हो रही है. लेकिन लोग हैं कि मानते नहीं. मेरठ में न्यूज़ 18 की टीम ने जब रिएलिटी चेक किया तो हैरान करने वाली तस्वीर सामने आई. यहां मास्क लगाना लोग अपनी शान के खिलाफ समझ रहे हैं. न्यूज़ 18 की टीम ने जब इस लापरवाही का कारण पूछा तो तरह-तरह के बहाने सुनने को मिले. कोई कह रहा है कि मास्क है तो सही लेकिन बैग में रखा है. तो कोई अकड़ते हुए कहता है कि मास्क की क्या ज़रुरत? कुछ लोग जो शर्मिंदा हुए वो माफी मांगते हुए भी नज़र आए. हां, जिन लोगों ने मास्क लगा रखा था वो ज़रुर चिंतित थे. मास्क लगाए हुए लोगों का कहना था कि इस पर एक बार फिर से जुर्माना शुरू करना चाहिए क्योंकि जब तक जुर्माना शुरू नहीं होगा, लोग मानने वाले हैं नहीं.

युवाओं में कोरोना को लेकर कोई फिक्र नहीं दिखी

रिएलिटी चेक करने के लिए हम एक बस में भी दाखिल हुए. बस के अंदर बैठे लोगों ने मास्क तो नहीं लगा रखा था. हां, कान में ईयरफोन ज़रुर लगा मिला. गाने सुनते हुए मस्ती में लोग यात्रा करते हुए नज़र आए. कुछ लोगों ने यहां तक कह दिया कि अब कहां है कोरोना? ख़ासतौर से युवा तो बिलकुल ही बेफिक्र हो गए हैं. यही नहीं नन्हें मुन्हें बच्चों की सेहत की भी लोग परवाह नहीं कर रहे हैं. बच्चों के साथ लोग टूर पर निकल रहे हैं लेकिन कोई सावधानी नहीं बरत रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज