लाइव टीवी

मेरठ में रेप पीड़िता ने SSP दफ्तर के आगे किया आत्मदाह का प्रयास, इंसाफ नहीं मिलने से थी नाराज

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 6, 2019, 4:07 PM IST
मेरठ में रेप पीड़िता ने SSP दफ्तर के आगे किया आत्मदाह का प्रयास, इंसाफ नहीं मिलने से थी नाराज
पीड़ित महिला को समय रहते बचा लेने के बाद पुलिस अब मामले की जांच कर रही है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

दरअसल मेरठ के थाना हस्तिनापुर क्षेत्र की रहने वाली महिला का आरोप है कि मोनू गुज्जर नाम के एक शख्स ने उसकी ही जेठानी की मदद से उसका रेप किया. जब पीड़िता 161 के बयान दर्ज कराने के लिए पहुंची तो पहले दरोगा ने उस पर फैसला करने का दबाव बनाया.

  • Share this:
मेरठ. हैदराबाद में गैंगरेप (Gangrape) के आरोपियों के एनकाउंटर के बाद अब पूरे देश में रेप पीड़िताएं न्याय मांग रही है. इसी क्रम में शुक्रवार को मेरठ (Meerut) में पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न करने पर रेप पीड़िता ने एसएसपी ऑफिस के बाहर मिट्टी का तेल डालकर आत्मदाह करने की कोशिश की. इससे वहां हड़कंप मच गया और वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने पीड़िता को किसी तरह बचाया और महिला थाने भेज दिया. पीड़ित महिला का आरोप है कि पुलिस रेपिस्टों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है. महिला करीब पिछले तीन महीने से कार्रवाई के लिए पुलिस थाने के चक्कर लगा रही है.

जानकारी के मुताबिक मेरठ के थाना हस्तिनापुर क्षेत्र की रहने वाली महिला का आरोप है कि मोनू गुज्जर नाम के एक शख्स ने उसकी ही जेठानी की मदद से उसका रेप किया. जब पीड़िता 161 के बयान दर्ज कराने के लिए थाने पहुंची तो पहले दरोगा ने उस पर फैसला करने का दबाव बनाया. लेकिन जब वो नहीं मानी तो आरोपी ने खुद वहां आकर पीड़िता को जान से मारने की धमकी दी. इस पर उसको सुरक्षित घर तो पहुंचा दिया गया. लेकिन आरोपी के थाने में मौजूद होने पर भी पुलिस ने उसे गिरफ्तार नहीं किया.

इसके अलावा पीड़िता ने मुकदमे के जांच अधिकारी पर भरोसा ना जताते हुए उन्हें बदलने की मांग की है. आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने और रेप जैसे गंभीर मामले में भी कार्रवाई ना होने से नाराज पीड़िता ने एसएसपी दफ्तर के बाहर आत्मदाह की ये कोशिश की. इस पर मेरठ पुलिस हरकत में आ गई. पुलिस ने आनन-फानन में महिला को बचाकर थाने भिजवाया जिसके बाद अब उसकी काउंसलिंग की जा रही है. वहीं एसपी क्राइम रामायण ने इस मामले में कार्रवाई कराने का भरोसा दिलाया. फिलहाल पुलिस घटना की जांच पड़ताल में जुट गई है.

ये भी पढ़ें:

बलात्कारियों को गोलियों से भून देने वाला कानून बनाए सरकार: महंत नरेंद्र गिरी

UP पुलिस ने मायावती को दिया जवाब, गिनाए अपने एनकाउंटर के आंकड़े

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2019, 3:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर