सरकारी ऑफिस में ये काम किया तो भरना पड़ेगा इतना जुर्माना

विकास भवन के बाहर दीवार पर पान की पीक मिलने पर सीडीओ ने कड़ी नाराजगी जताते हुए कहा कि ऐसे कर्मचारियों व आने वाले लोगों पर पांच सौ रुपये जुर्माना वसूला जाएगा जो गंदगी फैलाते हैं.

Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 24, 2019, 6:01 PM IST
सरकारी ऑफिस में ये काम किया तो भरना पड़ेगा इतना जुर्माना
मेरठ की नई सीडीओ ईशा दुहन की खास पहल.
Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 24, 2019, 6:01 PM IST
आप किसी भी सरकारी दफ्तर में चले जाएं तो वहां गंदगी के साथ जगह-जगह पीक के निशान, धुम्रपान करते हुए लोग और मुंह में पान दबाए काम करते हुए बाबू आपको आसानी से देखने को मिल जाएंगे. लेकिन अब कम से कम मेरठ के विकास भवन में गुटखा थूका या धुम्रपान किया तो खैर नहीं, क्योंकि अब इसके लिए उन्हें अपनी जेब ढीली करनी पड़ेगी. यही नहीं, ऐसा करने वाले आम लोगों के अलावा अधिकारियों और कर्मचारियों को दौ से पांच सौ रुपये तक जुर्माना भरना पड़ेगा. मजेदार बात ये है कि विकास भवन में ये व्यवस्था तत्काल प्रभाव से लागू कर दी गई है. जबकि विकास भवन आने वाले आगुन्तकों को एक पौधा भी भेंट किया जा रहा है, ताकि वो वातावरण को शुद्ध करने में अपना योगदान दे सकें.

मेरठ की सीडीओ ने की खास पहल
सरकारी कार्यालयों का क्या हाल है ये किसी से छिपा नहीं है. गुटखे की पीक से गंदी दीवारें, जगह-जगह गंदगी और धुम्रपान करते हुए कर्मचारी और अधिकारी मिलना आम बात है. हालांकि ये सब अब मेरठ के विकास भवन में तो कम से कम नहीं चल पाएगा. मेरठ की नई सीडीओ ईशा दुहन ने कार्यभार संभालने के बाद विकास भवन का दौरा किया तो जगह-जगह दीवारों पर पीक देखकर फैसला किया कि अब किसी ने भी विकास भवन परिसर में गुटखा तम्बाकू या धुम्रपान किया तो खैर नहीं.

विकास भवन आने वाले आगुन्तकों को एक पौधा भी भेंट किया जा रहा है, ताकि वो वातावरण को शुद्ध करने में अपना योगदान दे सकें.
विकास भवन आने वाले आगुन्तकों को एक पौधा भी भेंट किया जा रहा है, ताकि वो वातावरण को शुद्ध करने में अपना योगदान दे सकें.


इतना लगेगा जुर्ताना
विकास भवन के बाहर दीवार पर पान की पीक मिलने पर सीडीओ ने कड़ी नाराजगी जताते हुए कहा कि ऐसे कर्मचारियों व आने वाले लोगों पर पांच सौ रुपये जुर्माना वसूला जाएगा जो गंदगी फैलाते हैं. इसके साथ ही कुछ कर्मचारियों की डयूटी लगायी गई है जो कर्मचारियों के साथ बाहर से आने वालों की तलाशी लेते हैं कि वह पान व गुटका आदि तो लेकर नहीं आ रहे हैं. ऐसे लोगों पर जुर्माने की कार्रवाई की जा रही है. जबकि एक शख्स को बीड़ी पीने की कीमत दो सौ रुपए की रसीद काटकर चुकानी पड़ी.

विकास भवन में होंगे ये इंतजाम
Loading...

सीडीओ का निर्देश है कि विकास भवन परिसर पूरी तरह साफ सुधरा नजर आना चाहिए. इसके लिए डस्टबिन भी रखे गए हैं. साथ ही यहां आने वाले हर शख्स को पर्यावरण को संरक्षित करने के लिए एक पौधा भी भेंट किया जा रहा है. जबकि मेरठ की सीडीओ की इस पहल का विकास भवन के कर्मचारी और आगन्तुक स्वागत करते नज़र आ रहे हैं. हर रोज कई लोगों से जुर्माना वसूला जाता है और यह अभियान तब तक चलेगा जब तक सरकारी दफ्तर तंबाकू मुक्त ना हो जाए. यही नहीं, जिला स्वास्थ्य समिति की ओर से लोगों को जागरुक करने के लिए जगह-जगह वॉल पेन्टिंग भी बनाई जा रही है.

ये भी पढ़ें: मुजफ्फरनगर दंगे: योगी सरकार ने दी 20 और मुकदमे वापसी की अनुमति

आज़म खान पर कसा शिकंजा, ED ने तलब की अवैध संपत्तियों की रिपोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 24, 2019, 5:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...