Home /News /uttar-pradesh /

मेरठ में देखिए जूनियर डॉक्टरों के कार्य बहिष्कार के बाद ओपीडी का हाल

मेरठ में देखिए जूनियर डॉक्टरों के कार्य बहिष्कार के बाद ओपीडी का हाल

मेडिकल

मेडिकल में जूनियर डॉक्टरों की कार्य बहिष्कार जारी

नीट काउंसलिंग की मांग को लेकर जूनियर डॉक्टरों का प्रदर्शन मंगलवार को भी जारी रहा.उन्होंने मेडिकल की सभी ओपीडी सेवाओं का बहिष्कार कर धरना स्थल पर प्रदर्शन किया.जिसकी वजह से मेडिकल कॉलेज में इलाज कराने आ रहे हो मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.मरीजों की माने तो पर्चा बनवाने से लेकर उपचार कराने तक उन्हें काफी समय लग रहा है

अधिक पढ़ें ...

    मेरठ:-नीट काउंसलिंग की मांग को लेकर जूनियर डॉक्टरों का प्रदर्शन मंगलवार को भी जारी रहा.उन्होंने मेडिकल की सभी ओपीडी सेवाओं का बहिष्कार कर धरना स्थल पर प्रदर्शन किया.जिसकी वजह से मेडिकल कॉलेज में इलाज कराने आ रहे हो मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा.मरीजों की माने तो पर्चा बनवाने से लेकर उपचार कराने तक उन्हें काफी समय लग रहा है.

    काउंसलिंग की मांग को लेकर प्रदेश व्यापी कर रहे हैंकार्य बहिष्कार
    जूनियर डॉक्टर रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के तत्वाधान में प्रदेश भर में विभिन्न मेडिकल कॉलेजों में कार्य बहिष्कारकर रहे हैं. जूनियर डॉक्टरों की मांग है कि जल्द से जल्द नीट की काउंसलिंग कराई जाए.जिससे उनके ऊपर जो भार है, वह कम हो सके.

    मेडिकल प्रशासन ने लगाया अंतरिक्त स्टाफ
    मेरठ मेडिकल कॉलेज ही नहीं बल्कि पश्चिम उत्तर प्रदेश के मरीज भी मेडिकल की ओपीडी में दिखाने के लिए आते हैं.ओपीडी सेवा की स्थिति को देखते हुए अब मेडिकल प्रशासन ने भी अधिक स्टाफ को मेडिकल सेवाओं से जोड़ दिया.सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर, नॉन पीजी और इंटर्न चिकित्सकों की टीम को लगाया गया है.जिससे दूरदराज से मेडिकल ओपीडी में दिखाने वाले मरीजों को दिक्कतों का सामना ना करना पड़े

    80 में से 30 डॉक्टर ही कर रहे कार्य बहिष्कार
    मेडिकल कॉलेज में कुल 80 जूनियर डॉक्टर है उनमें से 25 जूनियर डॉक्टर की नीट काउंसलिंग की मांग को लेकर कार्य बहिष्कार कर रहे हैं क्योंकि उन डॉक्टरों का कहना है कि जेआर वन की काउंसलिंग ना होने की वजह से जेआर दो में प्रोन्नत नहीं हो रही हैं.इससे कहीं ना कहीं उन पर अतिरिक्त भार पड़ रहा है.गौरतलब है कि पिछले चार-पांच दिनों से जूनियर डॉक्टर कार्य बहिष्कार कर रहे हैं.हालांकि डॉक्टर इमरजेंसी सेवाओं को संचालित करने के लिए अन्य जूनियर डॉक्टर भरपूर साथ दे रहे हैं.मेडिकल प्रशासन ने भी हड़ताल कर रहे जूनियर डॉक्टरों को लेटर जारी कर जल्द से जल्द हड़ताल समाप्त कर ओपीडी सेवा में कार्यभार संभालने के लिए कहा है.

    रिपोर्ट
    विशाल भटनागर
    मेरठ

    Tags: मेरठ

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर