होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /मेरठ के 'I Love You' केस में प्रशासन की सख्ती, स्कूलों में मोबाइल को लेकर ये हैं नियम?

मेरठ के 'I Love You' केस में प्रशासन की सख्ती, स्कूलों में मोबाइल को लेकर ये हैं नियम?

मेरठ में मोबाइल बैन सख्ती से पालन करने के लिए एडवाइजरी जारी की.

मेरठ में मोबाइल बैन सख्ती से पालन करने के लिए एडवाइजरी जारी की.

मेरठ स्कूल कॉलेजों में पहले से ही मोबाइल बैन है, लेकिन उसके बावजूद भी इंटर तक के कुछ छात्र-छात्राएं स्कूलों में मोबाइल ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट- विशाल भटनागर 

मेरठ. ‘आई लव यू’ (I LOVE YOU) प्रकरण के बाद मेरठ प्रशासन ने सख्त रवैया अपना लिया है. स्कूल कॉलेज में अभी तो देखा जाता था कि इंटर के छात्र-छात्राएं कक्षा में मोबाइल भी लेकर आते थे, जबकि पहले से ही मोबाइल बैन था. मगर कोरोना काल के बाद ऑनलाइन क्लासेज को देखते हुए स्टूडेंट को कॉलेज प्रशासन द्वारा भी कुछ ढील दी गई थी. लेकिन जिस तरीके से किठौर की शिक्षिका को आईलवयू प्रकरण में वीडियो वायरल हुआ था. उसके बाद में प्रशासन ने यह सख्ती अपनाई है. जिससे कि इस तरह के वीडियो भविष्य में वायरल ना हो.

जिला विद्यालय निरीक्षक राजेश कुमार द्वारा द्वारा मोबाइल प्रकरण को लेकर कॉलेज प्रबंधक और प्रधानाचार्य को सख्त एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि, अगर किसी भी स्टूडेंट की कक्षा में मोबाइल पाया जाएगा. उसकी सीधी जिम्मेदारी कॉलेज प्रिंसिपल और मैनेजमेंट की होगी. ऐसे में विशेष चेकिंग अभियान भी चलाए कि किसी भी स्टूडेंट के पास मोबाइल ना मिले.

आपके शहर से (मेरठ)

जानिए क्या था पूरा मामला
गौरतलब है कि, मेरठ के किठौर स्थित एक गांव में छात्र द्वारा शिक्षिका को ‘आई लव यू’ (I LOVE YOU) बोल वीडियो को वायरल कर दिया था. जिससे शिक्षिका काफी आहत थी. इस संबंध में अपनी शिकायत दर्ज कराई थी. शिकायत दर्ज कराने के बाद छात्र के परिजनों द्वारा धमकी दी गई थी. हालांकि प्रशासन ने मामले को गंभीरता से संज्ञान लेते हुए संबंधित छात्र और उसके परिवार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर दी है. मगर भविष्य में इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति ना हो. मेरठ शिक्षा विभाग द्वारा पूरे मामले की जांच के लिए एक समिति भी गठित की है. जो प्रकरण की जांच कर अधिकारियों को रिपोर्ट सौंपेगी. इसी कड़ी में जो पूर्व से प्रशासन के मोबाइल को लेकर बंद के निर्देश है. उसका भी गहनता से स्कूल में पालन हो प्रधानाचार्य और मैनेजमेंट की जिम्मेदारी तय की है.

बताते चलें कि कोरोना कॉल में जिस तरीके से ऑनलाइन क्लास चली थी. उसके बाद से देखा गया था कि कुछ स्कूलों में छात्र छात्राएं मोबाइल लेकर आ रहे हैं. लेकिन आज फिर से प्रतिबंध रहेगा.

Tags: Crime News, Meerut city news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें