सीएम योगी से प्रेरणा लेकर कोरोना से जंग जीतकर मैदान में उतरे राज्यमंत्री सुनील भराला

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.  (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ. (फाइल फोटो)

राज्यमंत्री सुनील भराला अप्रैल माह में कोरोना पॉज़िटिव हो गए थे लगभग महीने भर कोरोना से जंग जीतने के बाद जैसे ही वो ठीक हुए और डॉक्टरों ने उन्हें जाने की इजाज़त दी वो मेरठ मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण करने पहुंच गए.

  • Share this:

उत्‍तर प्रदेश के मेरठ में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच आज मेरठ मेडिकल कॉलिज में मरीजों का हालचाल लेने उत्तर प्रदेश श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष व दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री पंडित सुनील भराला पहुंचे और मेरठ मेडिकल कॉलेज के निरीक्षण साथ ही मरीजों की समस्या सुनी. उन्होंने मेडिकल स्टाफ को बेहतर से बेहतर इलाज करने के लिए निर्देश दिए. सुनील भराला ने मेडिकल कॉलेज पहुंचकर मरीजों से बातचीत की. लगभग एक महीने से राज्यमंत्री सुनील भराला कोरोना पॉजिटिव चल रहे ते. निगेटिव रिपोर्ट आते वो आज मेडिकल कॉलेज पहुंचे और यहां का हाल जाना.

राज्यमंत्री सुनील भराला अप्रैल माह में कोरोना पॉज़िटिव हो गए थे लगभग महीने भर कोरोना से जंग जीतने के बाद जैसे ही वो ठीक हुए और डॉक्टरों ने उन्हें जाने की इजाज़त दी वो मेरठ मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण करने पहुंच गए. मेडिकल प्रांगण में दो घंटे में पूरी बारीकी से निरीक्षण किया व भोजन व्यवस्था का निरीक्षण किया. उन्होंने कंट्रोल रूम में बैठकर मरीज़ों के हाल चाल भी लिए. बताया गया कि जिस कंट्रोल रूम में मरीज़ों के तीमारदार अपने मरीज़ के बारे में हालचाल जानते हैं उसमें प्रतिदिन लगभग 70- 110 तक फोन आते हैं. भराला ने बताया कि मेडिकल कॉलेज का स्टाफ़ मरीज़ और तीमारदारों से बातचीत करा रहे है. वहीं निरीक्षण के दौरान भराला ने जूनियर डॉक्टरों से भी बातचीत की और धन्यवाद दिया जो रातों रात परिश्रम कर रहे हैं. राज्यमंत्री ने इस दौरान मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य तथा CMS को निर्देश दिया कि आप इस टाइप की कमी को देखते हुए पूर्व सैनिक डॉक्टरों को कोरोना योद्धाओं में लगाने का कार्य करे तथा बोर्ड नर्स की कमी पूरी करने के लिए विज्ञापन निकाले साथ ही साथ ही भराला इस दौरान मरीज़ों के तीमारदारों को वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से 30 मरीज़ों को तीमारदारों से मिलाने का काम भी किया

सुनील भराला ने कहा आज हमें कमियां खोजने की आवश्यकता नहीं है मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टरों व कर्मचारियों के लिए मनोबल बढ़ाने की आवश्यकता है, हम कंधे से कंधा मिलाकर के डॉक्टरों के साथ खड़े हुए हैं पूरी सरकार खड़ी हुई है कोरोना मरीज़ का अच्छे से अच्छा इलाज हो तीमारदार को मरीज़ के बारे में पूरी जानकारी दी जाए,ऐसा भी निर्देश किया है उनके साथ ही मेडिकल कॉलेज का पूरा स्टाफ़ व मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ ज्ञानेन्द्र सिंह , CMS धीरज बालियान सहित कई अधिकारी गण निरीक्षण के दौरान उपस्थित रहे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज