महिला ने सिरिंज से निकाला अपना खून और गढ़ दी फर्जी गैंगरेप की कहानी

निजी अस्पताल चलाने वाली एक महिला ने 6 लोगों पर गैंगरेप का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी. उसने घटना को फुलप्रूफ बनाने के लिए सिरिंज से खून निकालकर अपने कपड़ों पर लगाया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 7, 2019, 7:53 PM IST
महिला ने सिरिंज से निकाला अपना खून और गढ़ दी फर्जी गैंगरेप की कहानी
महिला ने गढ़ी फर्जी गैंगरेप की कहानी
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 7, 2019, 7:53 PM IST
उत्तर प्रदेश के अमरोहा में एक ऐसी महिला सामने आई है जिसने अपने ही फर्जी गैंगरेप की कहानी बनाकर पुलिस को सुना दी. महिला ने गैंगरेप के दावे को सच साबित करने के लिए सिरिंज के जरिए अपना खून निकाला और उसका सबूत बनाने में इस्तेमाल भी किया.

बता दें कि गैंगरेप की कहानी गढ़ने वाली ये महिला एक अस्पताल चलाती है. हालांकि शक होने के बाद जब पुलिस ने महिला से सख्ती से पूछताछ की तो उसने पूरी कहानी खुद ही बयान कर दी. पुलिस ने महिला का बयान दर्ज कर आरोपी बनाए गए 4 लोगों को रिहा कर दिया है.

मामला जिले के डगरौली इलाके की है, जहां एक निजी अस्पताल चलाने वाली एक महिला ने 6 लोगों पर गैंगरेप का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी. अपने शिकायत में महिला ने आरोपियों पर बलात्कार के साथ प्राइवेट पार्ट में चोट करने का भी आरोप लगाया था. महिला ने अपने साझीदार ऋषिपाल के ससुर हुक्म सिंह, साले विष्णु और अखिलेश पर रेप का आरोप लगाया था.

मेडिकल रिपोर्ट में सामने आया सच

महिला द्वारा शिकायत दर्ज कराने के बाद पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी और सभी को गिरफ्तार कर लिया. हालांकि जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ी पुलिस को वारदात पर शक होने लगा. पुलिस जांच को आगे बढ़ाने के लिए मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार करने लगी और जब रिपोर्ट सामने आई तो पूरा मामला सामने आ गया.

पूछताछ में कबूली सच्चाई
पुलिस ने अस्पताल संचालिका से कड़ाई से पूछताछ की. जिसके बाद महिला ने सच स्वीकार कर लिया और उसने सारी सच्चाई बताई. उसने बताया कि किस तरह उसने घटना को फुलप्रूफ बनाने के लिए सिरिंज से खून निकालकर अपने कपड़ों पर लगाया. पुलिस ने महिला के बयान को मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज कराया. साथ ही सभी आरोपियों को रिहा कर दिया गया.
Loading...

ये भी पढ़ें: मुजफ्फरनगर के DM की पहल, नाश्ते की जगह अब परोसा जाएगा गुड़
First published: July 7, 2019, 7:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...