वीडियो क्लिप दिखाने में फंसे विधायक संगीत सोम, अाचार संहिता उल्लंघन का केस दर्ज
Meerut News in Hindi

वीडियो क्लिप दिखाने में फंसे विधायक संगीत सोम, अाचार संहिता उल्लंघन का केस दर्ज
Photo - getty images

उत्तर प्रदेश में चुनाव से पहले बीजेपी का एक विधायक मुश्किल में घिरता दिख रहा है. यूपी के बीजेपी विधायक संगीत सोम के खिलाफ अचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया है.

  • News18India
  • Last Updated: January 18, 2017, 8:15 PM IST
  • Share this:
उत्तर प्रदेश में चुनाव से पहले बीजेपी का एक विधायक मुश्किल में घिरता दिख रहा है.  यूपी के बीजेपी विधायक संगीत सोम के खिलाफ अाचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया है. मेरठ की सरधना विधानसभा सीट से विधायक संगीत सोम सहित दो अन्य समर्थकों पर भी मुकदमा दर्ज किया गया है.

दरअसल, संगीत सोम मंगलवार को अपनी वीडियो वैन से क्षेत्र में प्रचार कर रहे थे. इसी प्रचार के दौरान उन पर गाड़ी में लगी एलसीडी पर लोगों को विवादित वीडियो क्लिप दिखाने का आरोप लगा है. शिकायत के बाद गांव पहुंची पुलिस ने वीडियो जब्त कर लिया है. इससे पहले मंगलवार को, सोम के समर्थक चंद्रशेखर और मोबाइल विडियो वैन के ड्राइवर के खिलाफ भी मामला दर्ज हुआ था.

इस वीडियो में संगीत सोम के विधायक बनने के बाद के राजनीतिक सफर की कहानी दिखाई गई. इसमें कैराना पलायन विवाद, खेड़ा महापंचायत, बिसाहड़ा कांड और अखलाक हत्याकांड समेत अन्य मुद्दों की क्लिप भी शामिल हैं. वीडियो क्लिप में विधायक को हीरो की तरह पेश किया गया है. इस मामले में प्रशासन ने आईपीसी की धारा 188 , धारा 125 लोक प्रतिनिधि अधिनियम 1956 के तहत थाना सरधना में मुकदमा दर्ज कर अपनी कार्रवाई शुरू कर दी है. एमसीएमसी कमेटी ने विडियो जब्त कर लिया है और उस पर अपनी जांच शुरू कर दी है, जिसके बाद अपनी रिपोर्ट चुनाव आयोग भेज दी जाएगी.



उधर BJP विधायक संगीत सोम के खिलाफ शिकायत करने वाले वकील सरताज गाजी ने कहा है कि सोम खुलेआम कानून का उल्लंघन करते हैं. वहीं यूपी बीजेपी के प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने संगीत सोम के विवादित वीडियो पर कहा है कि जो कुछ भी दिखाया जा रहा है उसकी जानकारी चुनाव आयोग को है. इसके अलावा समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता जूही सिंह ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि संगीत सोम पर दर्ज मामला बताता है कि बीजेपी ध्रुवीकरण की राजनीती कर रही है. उन्होंने कहा कि पार्टी इसे एक व्यक्ति का मामला बता कर किनारे नहीं कर सकती और बीजेपी को इसकी जिम्मेदारी लेनी होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज