होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /मेरठ से अगवा हुआ ठेकेदार महज चार घंटे में बरामद, बोला- थैंक्स यूपी पुलिस, गर्व है तुम पर

मेरठ से अगवा हुआ ठेकेदार महज चार घंटे में बरामद, बोला- थैंक्स यूपी पुलिस, गर्व है तुम पर

मेरठ से अगवा ठेकेदार जिसे यूपी पुलिस ने मुक्त कराया

मेरठ से अगवा ठेकेदार जिसे यूपी पुलिस ने मुक्त कराया

UP Crime News: मेरठ में रुपयों के लेनदेन में अपहरण की इस घटना को अंजाम दिया गया था लेकिन पुलिस ने महज 4 घंटे में अपहृत ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

उत्तर प्रदेश के मेरठ से ठेकेदार को पैसे के लेन-देन में अगवा किया गया था
पुलिस ने इस केस में दो अपहर्ताओं को भी दबोचा है
इस केस में पुलिस को सीसीटीवी से अहम सुराग मिले थे.

मेरठ. यूपी पुलिस ने फिल्मी स्टाइल में हुए अपहरण कांड का महज 4 घंटे में खुलासा कर दिया है. पुलिस ने अगवा किये गए ललित त्यागी को हापुड़ से बरामद किया है, जिसके बाद इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पैसों के आपसी लेनदेन को लेकर ललित त्यागी का कार सवार बदमाशों ने अपहरण किया था. पुलिस की त्वरित कार्रवाई देख कर अगवा हुए युवक ने पुलिस का धन्यवाद करते हुए थैंक यू योगी पुलिस कहा.

योगी सरकार ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अपराध के काले कारोबार पर लगाम कस दी है. अपरहण, फिरौती जैसे धंधे बंद हो चुके हैं लेकिन मेरठ में कार सवार बदमाशों ने सेरेआम अपहरण की वारदात को अंजाम देकर पुलिस को चुनौती दे दी थी. घटना मेरठ के थाना मेडिकल क्षेत्र के तेजगढ़ी चौराहे की है जहां देर शाम ललित त्यागी नाम के ठेकेदार का अपहरण कर लिया गया था. कार सवार बदमाश आए और ललित त्यागी को अपनी कार में डाल कर ले गए. परिजनों ने कंट्रोल रूम को सूचना दी जिसके बाद मौके पर पुलिस ने सीसीटीवी खंगाला.

जिसके बाद पैसों के लेनदेन का विवाद भी सामने आया और फिर पुलिस ने हापुड़ में जाकर दबिश दी. दबिश के दौरान मुनेंद्र त्यागी के घर से ललित को बरामद कर लिया, साथ ही इस मामले में एक अन्य अंकुर की भी गिरफ्तारी की गई है. पुलिस अधिकारियों की मानें तो ललित त्यागी ने मुनेंद्र त्यागी से 10 लाख रुपए उधार लिए थे. इन्हीं रुपयों को लेकर दोनों पक्षों में विवाद बना हुआ था और इसी के लिए अपहरण की वारदात को अंजाम दिया गया था.

आपके शहर से (मेरठ)

फिलहाल ललित त्यागी को सकुशल बरामद कर लिया गया है और आरोपियों को मुकदमा दर्ज करके जेल भेजा जा रहा है. ललित त्यागी की मानें तो अपहरण के बाद आरोपियों ने ललित त्यागी पर जमीन का बैनामा करने का दबाव भी बनाया. उन्होंने यह भी कहा कि अगर वह आज जिंदा है तो योगी पुलिस की बदौलत. जिसके लिए उन्होंने जो भी पुलिस को थैंक्यू भी कहा.

Tags: Meerut city news, Meerut crime, Meerut Crime News, UP news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें