लाइव टीवी

फिल्म ‘कमांडों थ्री’ को बंद कराने की मांग को लेकर पहलवानों ने किया प्रदर्शन

Umesh Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: December 7, 2019, 11:33 PM IST
फिल्म ‘कमांडों थ्री’ को बंद कराने की मांग को लेकर पहलवानों ने किया प्रदर्शन
जो पहलवान (Wrestler) आमतौर पर अखाड़ों में नज़र आते हैं, आज जब वे सड़क पर बैनर और पोस्टर (Banner And Poster) लेकर निकले तो सभी हैरान रह गए.

जो पहलवान (Wrestler) आमतौर पर अखाड़ों में नज़र आते हैं, आज जब वे सड़क पर बैनर और पोस्टर (Banner And Poster) लेकर निकले तो सभी हैरान रह गए.

  • Share this:
मेरठ. मेरठ (Meerut) में शनिवार को सैकड़ों पहलवानों ने अर्जुन अवार्ड विजेता अल्का तोमर (Alka Tomar) के साथ एक फिल्म को लेकर ऐसा हल्ला बोला कि मॉल के मैनेजर की भी हालत खराब हो गई. मेरठ के  पहलवान फिल्म ‘कमांडों थ्री’ को धोबी पछाड़ की तर्ज पर पटकना चाहते हैं. पहलवानों पर कई फिल्में बनीं जिन्होंने बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाया. चाहे वो दंगल हो या सुल्तान, लेकिन इस समय सिनेमाघरों में चल रही एक फिल्म से पहलवान खासे खफा हैं. फिल्म का नाम है कमांडो थ्री.

मॉल के मैनेजर की हालत हो गई खराब
इस फिल्म से मेरठ के सैकड़ों पहलवान इतने नाराज हैं कि शनिवार को उन्होंने बॉक्स ऑफिस पर ही हल्ला बोल दिया. मेरठ के एक मॉल में लगी फिल्म कमांडों थ्री को तत्काल प्रभाव से बंद कराने की मांग को लेकर अर्जुन अवार्डी पहलवान अल्का तोमर के नेतृत्व में जब सैकड़ों की संख्या में पहलवान पहुंचे तो मॉल के मैनेजर की भी हालत खराब हो गई. इन पहलवानों का एक  सुर में यही कहना था कि कमांडों थ्री फिल्म में उनका अपमान हुआ है.

आपत्तिजनक सीन काटे जाएं

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि, जब तक फिल्म में पहलवानों पर आपत्तिजनक सीन काटे नहीं जाते तब तक उनका विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा और वे ये फिल्म किसी सूरत में नहीं चलने देंगे. जो पहलवान आमतौर पर अखाड़ों में नज़र आते हैं, आज जब वो सड़क पर बैनर और पोस्टर लेकर निकले तो सभी हैरान रह गए. ख़ासतौर से राष्ट्रपति से अर्जुन अवार्ड का सम्मान पा चुकी अल्का तोमर, जब हमारी मांगे पूरी करो के नारे लगाने लगीं, तो सभी आश्चर्यचकित रह गए.

मेरठ के पीवीएस मॉल में पहवलानों ने किया हंगामा
न्यूज18 से खास बातचीत में अल्का तोमर ने कहा कि फिल्म कमांडो थ्री में पहलवानों का अपमान हुआ है. या तो इस फिल्म से पहलवानों के अपमान वाले दृश्य हटाए जाएं और अगर ये सीन नहीं हटते तो हैं तो वे इस फिल्म को मेरठ के किसी भी सिनेमाहॉल में चलने नहीं देंगे. मॉल के मैनेजर भी पहलवानों की इस मांग पर हां में हां मिलाते नजर आए. उन्होंने आश्वासन दिया कि इस फिल्म को लेकर वे आगे बात करेंगे तब जाकर पहलवान मानें. काफी देर तक मेरठ के पीवीएस मॉल में पहवलानों का हंगामा जारी रहा. पुलिस फोर्स आईं, तब जाकर यह हंगामा शांत हुआ और मॉल के कर्मियों की जान में जान आई.ये भी पढे़ं - 

उन्नावकांड: ‘उसने मुझसे कहा, भाई मुझे बचा लो, मैं दुखी हूं कि उसे बचा नहीं सका

महाराष्ट्र में कांग्रेस गठबंधन का हिस्सा, निर्णय लेने में इसकी भी सुने उद्धव सरकार: अशोक चव्हाण

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 11:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर