राम मंदिर मुद्दे पर देशभर में फैलाया जाएगा इंद्रेश कुमार का यह मैसेज
Agra News in Hindi

राम मंदिर मुद्दे पर देशभर में फैलाया जाएगा इंद्रेश कुमार का यह मैसेज
फाइल फोटो- मंदिर-मस्जिद मामले पर इंद्रेश कुमर ने मुसलमानों से अपील की है.

यह मैसेज देशभर के मुसलमानों के बीच पहुंचाया जाएगा. मुस्लिम राष्ट्रीय मंच को इसकी जिम्मेदारी दी गई है. सूत्रों की मानें तो बुधवार से मंच के पदाधिकारी देशभर में अपनी यात्राएं शुरु कर देंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 6, 2019, 11:43 AM IST
  • Share this:
राम मंदिर-बाबरी मस्जिद मुद्दे पर मंगलवार (आज) से सुनवाई शुरु होने जा रही है. सुप्रीम कोर्ट में अब इस मुद्दे पर लगातार सुनवाई चलेगी. लेकिन उससे पहले आरएसएस से जुड़े और मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संरक्षक इंद्रेश कुमार ने एक बड़ा कदम उठाया है. कोर्ट के फैसले और इस मुद्दे पर मुसलमानों का समर्थन हासिल करने के लिए एक मैसेज जारी किया है. उनका यह मैसेज देशभर के मुसलमानों के बीच पहुंचाया जाएगा. मुस्लिम राष्ट्रीय मंच को इसकी जिम्मेदारी दी गई है. सूत्रों की मानें तो बुधवार से मंच के पदाधिकारी देशभर में अपनी यात्राएं शुरु कर देंगे.

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राष्ट्रीय संयोजक और मंच की ओर से बनाई गई राम मंदिर कमेटी के वाइस चेयरमैन इस्लाम अब्बास ने बताया, “हमारे संरक्षक इंद्रेश कुमार के मैसेज का मकसद इतना है कि मुसलमानों को इस मामले की हकीकत बताई जाए. वो कुछ मौकापरस्त लोगों के बहकावे में न आएं.

इस मामले पर जो मैसेज देशभर में मुसलमानों को दिया जाएगा वो इस तरह है कि मुसलमान बाबर के अपराध को धिक्कारें और श्रीराम इमाम-ए-हिंद हैं इसे स्वीकारें. देश का मुसलमान बड़ा दिल करते हुए आगे आए और इमाम-ए-हिंद का मंदिर बनवाने में हर तरह से सहयोग करे. अयोध्या में पहले भी मंदिर ही था इस बात के सबूत खुद एक प्रसिद्ध भारतीय पुरातत्वविद् के. के. मुहम्मद दे चुके हैं.”



फाइल फोटो- इंद्रेश कुमार का संदेश लेकर मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के पदाधिकारी देशभर में जाएंगे.




दूसरी ओर इस्लाम अब्बास का कहना है, “हमारे पूर्वज मुगल बाबर नहीं भगवान राम हैं. भगवान राम हिन्दुओं के भगवान तो हमारे पूर्वज हैं. मुल्क से मोहब्बत हमारा आधा ईमान है. हदीस भी कहती है कि जहां विवाद हो वहां इबादत नहीं हो सकती. देश की आधे से ज्यादा आबादी की उस जगह आस्था है. वो मानती है कि वहां भगवान राम का जन्म हुआ था. मैं सभी मुसलमानों से अपील करता हूं कि वह भगवान राम का मंदिर बनवाने में सहयोग करें.”

ये भी पढ़ें- देशभर में अपराधों की बाल की खाल निकालेंगे ये 3221 अफसर, दी गई खास ट्रेनिंग

फ्रांसिसी नागरिक सैटेलाइट फोन लेकर क्यों जा रहे हैं लेह, 2 महीने में दूसरा पकड़ा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading