अपना शहर चुनें

States

Tandav के बाद अब वेब सीरीज Mirzapur को लेकर विवाद, जानें क्यों उत्तर प्रदेश में दर्ज हुआ केस

पुलिस का कहना है कि शिकायत के बाद सीरीज से जुड़े 4 लोगों पर केस दर्ज किया गया है. (File)
पुलिस का कहना है कि शिकायत के बाद सीरीज से जुड़े 4 लोगों पर केस दर्ज किया गया है. (File)

यूपी पुलिस का कहना है कि शिकायत के बाद मिर्जापुर वेब सीरीज ((Mirzapur Web Series)) से जुड़े रितेश साधवानी, फरहान अख्तर और भौमिक गोडलिया और अमेजन प्राइम के खिलाफ केस दर्ज किया गया है.

  • Share this:
मिर्जापुर. वेब सीरीज तांडव (Tandav) को लेकर चल रहे विवाद के बीच अब अमेजन प्राइम की फेमस सीरीज मिर्जापुर की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. आरोप लगाए जा रहे थे कि सीरीज के जरिए मिर्जापुर (Mirzapur Web Series) की छवि को बदनाम करने की कोशिश की गई. जिसे लेकर लोगों में काफी आक्रोश बढ़ गया. ये भी आरोप लगाया गया कि एक युवक को इसलिए दूसरे राज्य में नौकरी नहीं मिली क्योंकि वो मिर्जापुर का रहने वाला था. लोगों का आरोप है कि वेब सीरीज मिर्जापुर उनकी धार्मिक, सामाजिक और क्षेत्रीय भावनाओं को ठेस पहुंचा रही है और समाज में वैमनस्य फैला रही है, जिससे उनकी धार्मिक भावनाएं व मान्यताएं काफी आहत हुई हैं. शिकायत पर पुलिस ने देहात कोतवाली थाने में अमेजन प्राइम और मिर्जापुर वेब सीरीज  फिल्म के प्रोड्यूसर्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है.

पुलिस ने  जिन 4 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है, उनमें मिर्जापुर वेब सीरीज से जुड़े रितेश साधवानी, फरहान अख्तर और भौमिक गोडलिया और अमेजन प्राइम शामिल है.





पुलिस ने दर्ज किया मामला
पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह का कहना है कि ओटीटी प्लेटफॉर्म कंपनी अमेजन प्राइम पर रिलीज की गई मिर्जापुर वेब सीरीज के बारे में शिकायत की गई कि प्लेटफार्म पर प्रदर्शित मिर्जापुर वेब सीरीज उनकी धार्मिक, सामाजिक एवं क्षेत्रीय भावनाओं को ठेस पहुंचा रही है. सामाजिक वैमनस्य फैला रही है जिससे धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं. गाली गलौज और नाजायज संबंधों को भी दिखाया गया है. तहरीर के आधार पर सीरीज के प्रड्यूसर और तथा ओटीटी प्लेटफार्म अमेजन के खिलाफ अभियोग दर्ज कर विधिक कार्रवाई की जा रही है.

ये भी पढ़ें: विकास दुबे की बायोपिक और किताब पर पत्नी ऋचा को एतराज, लीगल नोटिस के बाद अब कोर्ट जाने की तैयारी

वेब सीरीज तांडव पर अखाड़ा परिषद ने जताया एतराज
साधु-संतों की सबसे बड़ी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने वेब सीरीज तांडव  में हिंदू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाए जाने पर कड़ा एतराज जताया है. मंगलवार को वीडियो जारी करते हुए अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि वेब सीरीज जरिए जानबूझकर हिंदू देवी-देवताओं को अपमानित किया गया है. उन्होंने कहा कि इस प्रवृत्ति पर रोका जाना बेहद जरूरी है. इसके लिए संत समाज को जो कुछ भी करना पड़ेगा वो पीछे नहीं हटेगा.

महंत नरेंद्र गिरी ने तत्काल इस वेब सीरीज पर बैन लगाए जाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि लखनऊ के हजरतगंज थाने में मुकदमा दर्ज होने और सीएम योगी के कड़ी कार्रवाई के बाद तांडव के निर्देशक अली अब्बास जफर ने माफी मांगी है. महंत नरेंद्र गिरी ने कहा कि वेब सीरीज के डायरेक्टर और कलाकार लिखित माफीनामा संबंधित अधिकारी को सौंपे. उसके बाद संत समाज आगे की कार्रवाई पर विचार करेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज