खतरनाक है ये सफर, बस के फर्स्ट एड बॉक्स में मिला मच्छर मारने की दवा

बसों में फर्स्ट एड बॉक्स तो है लेकिन दवाएं नहीं 

बसों में फर्स्ट एड बॉक्स तो है लेकिन दवाएं नहीं 

बसों में फर्स्ट एड बॉक्स तो है लेकिन दवाएं नहीं 

  • Share this:
यूपी के मिर्जापुर के सरकारी बसों में अगर आप फर्स्ट एड बॉक्स ढूंढ़ रहे हैं तो आपको दवाओं की जगह माचिस, आधार कार्ड और मच्छर मारने वाली दवाएं मिल सकती हैं. इतना ही नहीं इन बसों में आग से बचाव के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर भी नहीं मिलेगा. मतलब साफ है यात्रियों की जान के साथ खिलवाड़ बेखौफ हो रहा है.



हाल ही में जिले के बस स्टैंड की सरकारी बसों में दवाइयां ही नहीं मिली. जांच के दौरान फर्स्ट एड बॉक्स से माचिस, आधार कार्ड और मच्छरों को मारने वाली दवाएं निकली है और ऐसा ही हाल यहां के सभी बसों का है. हादसे के वक्त कभी-भी इन बसों से दवाईओं की उम्मीद भी नहीं की जा सकती है.



जब इस बारे में परिवहन विभाग के अधिकारियों से पूछताछ की गई तो उन्होंने दवाएं नहीं होने की बात स्वीकार की है. वहीं इन बसों में सफर करने वाले यात्रियों का कहना है कि रोडवेज की बसों में सफर करना काफी खतरनाक है क्यों कि इन बसों में सीट से ज्यादा यात्रियों को बैठाया जाता है, यात्री डर के साथ भी इन बसों में सफर करने को मजबूर हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज