IPS आशीष तिवारी बनकर करता था ट्वीट, पहुंचा सलाखों के पीछे

आईपीएस आशीष तिवारी व एसपी मिर्ज़ापुर के नाम से फर्जी ट्विटर एकाउंट बना कर ट्वीट करने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: December 24, 2017, 10:47 AM IST
IPS आशीष तिवारी बनकर करता था ट्वीट, पहुंचा सलाखों के पीछे
आईपीएस आशीष तिवारी व एसपी मिर्ज़ापुर के नाम से फर्जी ट्विटर एकाउंट बना कर ट्वीट करने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.
ETV UP/Uttarakhand
Updated: December 24, 2017, 10:47 AM IST
आईपीएस आशीष तिवारी व एसपी मिर्ज़ापुर के नाम से फर्जी ट्विटर एकाउंट बना कर ट्वीट करने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. गिरफ्तार युवक पटना का रहने वाला है और पटना स्थित मगध विश्वविद्यालय का बीसीए का छात्र बताया जा रहा है.

पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने गिरफ्तार युवक आशीष तिवारी पुत्र बसन्त लाल तिवारी निवासी कलिकेत नगर पटना के बारे में पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने बताया कि आरोपी युवक का ट्विटर एकाउंट 2015 में बना था. इसे बदल कर आईपीएस आशीष तिवारी के नाम पर कर दिया गया. इसी ट्विटर एकाउंट से फ़ोटो और मैसेज दिया जा रहा था.

शहर कोतवाली में एसपी आशीष तिवारी के तत्कालीन पीआरओ वैभव सिंह कि तहरीर पर आईपीसी कि धारा 443/17, 420, 471, 500, 66C, 66D और IT के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही थी. जांच के दौरान पुलिस को फर्जी ट्विटर एकाउंट बनाने वाले आशीष तिवारी के बारे में जानकारी मिली. पूछताछ के दौरान आशीष ने अपना गुनाह कबुल करते हुए अपनी गलती स्वीकार की है.

मिर्ज़ापुर से सुमित गर्ग की रिपोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मिर्जापुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 24, 2017, 10:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...