सोनभद्र हत्याकांड: TMC प्रतिनिधिमंडल को वाराणसी एयरपोर्ट पर रोका गया

टीएमसी के चार सदस्यीय संसदीय प्रतिनिधिमंडल को वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री इंटरनेशनल एयरपोर्ट, बाबतपुर में रोक लिया गया है. ये लोग सोनभद्र जाना चाहते हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 20, 2019, 10:48 AM IST
सोनभद्र हत्याकांड: TMC प्रतिनिधिमंडल को वाराणसी एयरपोर्ट पर रोका गया
डेरेक ओब्रायन के नेतृत्व में टीएमसी का प्रतिनिधिमंडल सोनभद्र के लिए निकला है लेकिन वाराणसी में उन्हें रोक लिया गया है. (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 20, 2019, 10:48 AM IST
उत्तर प्रदेश के सोनभद्र हत्याकांड में मारे गए 10 लोगों के परिजनों से मुलाकात के लिए शनिवार को टीएमसी का प्रतिनिधिमंडल सोनभद्र जाने के लिए वाराणसी पहुंचा. यहां से उन्हें पीड़ितों के घर जाना था लेकिन उससे पहले ही उत्तर प्रदेश पुलिस ने रोक लिया. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, टीएमसी के चार सदस्यीय संसदीय प्रतिनिधिमंडल को वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री इंटरनेशनल एयरपोर्ट, बाबतपुर में रोक लिया गया है.

तृणमूल कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल सोनभद्र जाने के मकसद से यहां पहुंचा है. मिली जानकारी के मुताबिक, टीएमसी के राज्यसभा सांसद डेरेक ओब्रायन के नेतृत्व में चारों लोग यहां पहुंचे हैं. इसमें सुनील मंडल, अबीर रंजन बिस्वास और उमा सरेन है. अगर प्रशासन ने चारों को यहां से जाने कि इजाजत देता है तो ये प्रतिनिधिमंडल पीड़ितों से मुलाकात करेगा.



जिले में लगी धारा-144
Loading...

इससे पहले मिर्जापुर के कमिश्नर आनंद कुमार सिंह ने मिर्जापुर और भदोही जिले के डीएम को पत्र लिखकर सोनभद्र जिले में किसी भी विशिष्ट व्यक्ति, राजनीतिक और गैर-राजनीतिक व्यक्ति के प्रवेश के लिए अपने जिले में मार्ग रोकने का निर्देश दिया है. शुक्रवार की शाम को मिर्जापुर आयुक्त की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि सोनभद्र जिले के तहसील घोरावल के उभ्भा गांव में 17 जुलाई को भूमि पर कब्जे को लेकर हुए विवाद और गोलीकांड में 10 लोगों की मौत और 28 लोगों के घायल होने के बाद सोनभद्र जिला मजिस्ट्रेट द्वारा धारा 144 लागू किया गया है.

प्रियंका गांधी मिर्जापुर में डटीं
वहीं दूसरी तरफ, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी शुक्रवार को यहां पहुंची थी. वे पीड़ितों से मुलाकात करने के लिए सोनभद्र जाने वाली थी लेकिन पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया. अभी भी वे मिर्जापुर में जमी हुई हैं. वे मिर्जापुर के चुनार गेस्ट हाउस में रात भर रहीं. इससे पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया था कि चुनार गेस्ट हाउस में बिजली-पानी और खाने की व्यवस्था नहीं की गई है. उनका कहना है कि प्रियंका गांधी को हिरासत में लेने के बाद गेस्ट हाउस की बिजली काट दी गई है. प्रियंका समेत सभी लोग गर्मी और उमस से बेहाल हैं.

ये भी पढ़ें-

मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर बोले आजम खान- पाकिस्तान न जाने की सजा भुगत रहे हैं मुसलमान

मंदिर जाने वाली महिलाओं को अगवा कर रेप करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 1 गिरफ्तार
First published: July 20, 2019, 10:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...