हार्दिक पटेल बोले- पाकिस्तान से बदला लेने का मतलब सिर काटकर लाना नहीं

मिर्ज़ापुर में किसान पंचायत कार्यक्रम में शिरकत करने आए हार्दिक पटेल ने कहा कि बदला का मतलब यह नहीं है कि किसी की हत्या कर दें या किसी का सिर काटकर ले आएं.

  • Share this:
मिर्ज़ापुर में किसान पंचायत कार्यक्रम में शिरकत करने आए हार्दिक पटेल ने केंद्र सरकार से मांग की है कि सीआरपीएफ के जवानों को भी शहीद का दर्जा मिलना चाहिए, जिससे उन्हें भी सरकार के फंड और पेंशन का फायदा मिल सके. उन्होंने कहा कि पहली बार ऐसा हुआ है कि रोज हमारे जवान शहीद हो रहे हैं. हार्दिक पटेल ने कहा, 'हमें बदला लेना है इसका मतलब यह नहीं है कि किसी की हत्या कर दें या किसी का सिर काटकर ले आएं'. बदले का मतलब है कि अगली बार हमारा कोई जवान शहीद ना हो और पाकिस्तान हमसे डरे. मोदी सिर्फ राजनीति की बात करते हैं. मोदी सरकार को कार्रवाई करनी पड़ेगी.



हार्दिक पटेल ने कहा कि मोदी सरकार को सर्जिकल स्ट्राइक करनी चाहिए. हालांकि हार्दिक ने यूपी से चुनाव लड़ने से साफ इनकार कर दिया और कहा कि लोकसभा चुनाव में वे गुजरात से ही अपने कैंडिडेट उतारेंगे.



एनकाउंटर से पहले शहीद अजय ने पत्नी डिंपल से कहा, फिक्र मत कर स्पेशल टास्क पर जा रहा हूं





पाटीदार आंदोलन पर हार्दिक पटेल ने कहा कि यह आंदोलन सिर्फ गुजरात तक है. उन्होंने कहा कि सरकार ने जो 10% आरक्षण का नाटक शुरू किया है, उस पर जब तक सुप्रीम कोर्ट फैसला नहीं लेता, तब तक हमें इस मुद्दे पर बात करने की जरूरत नहीं है. आज देश में युवा और किसान ही सबसे बड़ा मुद्दा हैं.
पुलवामा मुठभेड़: ढाई साल के बेटे को छोड़कर शहीद हो गया मेरठ का लाल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज