अपना शहर चुनें

States

चंदौली में बोले PM मोदी- महामिलावटी आज पूरी तरह से हो गए पस्त

फाइल फोटो
फाइल फोटो

प्रधानमंत्री ने कहा कि इन लोगों के कुछ जातियों को अपना गुलाम समझ लिया था. 2014 में पहली बार समझने और 2017 में दूसरी बार समझाने के बाद उत्तर प्रदेश के लोग 2019 में अच्छे से समझाने जा रहे हैं कि जातियां किसी की गुलाम नहीं हैं.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के मऊ के बाद चंदौली में रैली को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि बुरी तरह हार देखकर सपा-बसपा सहित ये तमाम महामिलावटी आज पूरी तरह से पस्त हो गए हैं. उन्होंने कहा कि बेंगलुरु में एक दूसरे का हाथ पकड़ के ये सभी लोगों ने फोटो खिंचवाई थीं. लेकिन जैसे ही प्रधानमंत्री पद की बात आई तो सब अपने-अपने दाव लेकर अपनी-अपनी ढपली बजाने लग गए. आगे पढ़ें मऊ और चंदौली में पीए मोदी के भाषण की 10 खास बातें.

1 मोदी ने कहा कि कोई 8 सीट, कोई 10 सीट, कोई 20-22 और कोई 35 सीट वाला प्रधानमंत्री बनने के सपने देखने लगा. लेकिन देश ने कह दिया है कि फिर एक बार फिर से मोदी सरकार. मोदी ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक का विरोध, एयर स्ट्राइक का विरोध, घुसपैठियों की पहचान का विरोध, नागरिकता कानून का विरोध, तीन तलाक के कानून का विरोध, OBC आयोग को संवैधानिक दर्जा देने का विरोध, कदम- कदम पर मोदी का विरोध करना सिर्फ यही इनका मॉडल है.

2 पीएम मोदी ने कहा कि हम उस राजनीतिक और सामाजिक संस्कृति में पले बढ़े हैं जहां खुद से बड़ा दल और दल से बड़ा देश होता है. यहीं की संतान पंडित दीनदयाल उपाध्याय के मूल्यों को हमने आत्मसात किया है. हमने भारतीय मूल्यों को ध्यान में रखते हुए सबका साथ, सबका विकास का रास्ता अपनाया है. उन्होंने कहा कि 21वीं सदी का युवा आज देश को 2014 से पहले के दौर में वापस भेजने के लिए तैयार नहीं हैं.



3 पीएम ने कहा कि ये वो दौर था- जब आए दिन घोटालों की खबरें अखबार में आती रहती थीं. ये वो दौर था- जब भ्रष्टाचार के खिलाफ देश सड़कों पर था. मोदी ने कहा कि कुछ लोग झूठ और अफवाह फैलाकर हमारे किसानों को गुमराह करना चाहते हैं. मैं आज यहां से पूरे देश के किसानों को बता देना चाहता हूं कि जो पैसे आपके खातों में भेजे जा रहे हैं वो आपके अपने हैं, आपकी सहायता के लिए हैं. उन पैसों को आपसे कभी भी वापस नहीं लिया जायेगा.
4 प्रधानमंत्री ने कहा कि चंदौली सहित पूर्वांचल का ये क्षेत्र धान के लिए मशहूर है. यहां के शुगर फ्री चावल की बड़ी चर्चा रही है. अब बनारस में इंटरनेशलन राइस रिसर्च भी बन गया है. आपके शुगर फ्री चावल की पहचान और बनारस का रिसर्च सेंटर, यहां के किसानों की बहुत बड़ी ताकत बढ़ाने वाला है. उन्होंने कहा कि हमारी नीति एकदम साफ है. हमारे जवानों की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं करेंगे. खतरा चाहे सीमा के भीतर हो, या सीमा पार, हम आतंकियों को घुसकर मारेंगे. भारत का खाकर पाकिस्तान के गुण गाने वाले अलगाववादियों के साथ हम सख्ती से निपट रहे हैं.

5 मऊ में जनसभा को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि इन महामिलावटी लोगों की सच्चाई जनता पहले दिन से जानती है. उन्होंने कहा कि मोदी हटाना तो मात्र एक बहाना था साल में इन्हें अपने भ्रष्टाचार के पाप को छिपाना था. पीएम ने कहा कि वो महामिलावटी जो महीनेभर पहले तक मोदी हटाओ का राग अलाप रहे थे, वो आज बौखलाए हैं. उनकी पराजय पर देश ने मुहर लगा दी है. उत्तर प्रदेश ने तो इनका सारा गुणा गणित ही बिगाड़ दिया है.

6 पीएम ने कहा कि इसलिए ये कोशिश कर रहे हैं कि देश में जैसे-तैसे खिचड़ी सरकार बन जाए. ये एक मजबूर सरकार चाहते थे, जिसे वो अपनी जरूरत के हिसाब से ब्लैकमेल कर सकें. मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा बसपा ने जाति के आधार पर एक अवसरवादी गठबंधन किया. लखनऊ में AC कमरें में बैठकर तो डील हो गई, लेकिन जमीन से कटे हुए ये नेता अपने कार्यकर्ताओं को भूल गए.

7 प्रधानमंत्री ने कहा कि इन लोगों के कुछ जातियों को अपना गुलाम समझ लिया था. 2014 में पहली बार समझने और 2017 में दूसरी बार समझाने के बाद उत्तर प्रदेश के लोग 2019 में अच्छे से समझाने जा रहे हैं कि जातियां किसी की गुलाम नहीं हैं. उन्होंने कहा कि अब बुआ हो या बबुआ हो, इन लोगों ने खुद को गरीबों से इतना दूर कर लिया है कि अब इन्हें गरीबों का दुःख नजर नहीं आता.

8 मोदी ने कहा कि मैं उन किसान परिवारों के बैंक खाते में सीधी मद देने में जुटा हूं, जिन्हें छोटे-छोटे खर्च के लिए भी कर्ज लेना पड़ता था. उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले राजस्थान के अलवर में एक दलित बेटी के साथ गैंगरेप किया गया था. वहां बहन जी के समर्थन से कांग्रेस की सरकार चल रही है. कांग्रेस की सरकार ने चुनाव को देखते हुए उस दलित बेटी के साथ हुए इस राक्षसी अपराध को छिपाने की कोशिश की.

9 उन्होंने कहा कि बहन जी सब जानती हैं, लेकिन कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस लेने के बजाय वो मोदी को गालियां देने में जुटी हैं. मैं यहां की और पूर्वांचल की महिलाओं को विशेष आग्रह करूंगा कि वो ऐसे महिला विरोधी दलों के खिलाफ पूरी ताकत से मतदान करें. महिलाओं की गरिमा और उनकी मर्यादा एवं हितों के लिए मतदान करें.

10 पीएम ने कहा कि महिला हितों, महिला सुरक्षा के लिए हमारी सरकार प्रतिबद्ध है. आजादी के इतिहास में पहली बार, रेप केस में फांसी की सज़ा का प्रावधान इस चौकीदार ने किया है. सपा-बसपा ने यहां से ऐसे उम्मीदवार को टिकट दिया है जो बलात्कार के आरोप में भगौड़ा है. समाजवादी पार्टी का इतिहास तो लोग जानते हैं, लेकिन बहन जी आप क्या ऐसे उम्मीदवार के लिए वोट मांगेगी? पीएम ने कहा कि कमल के निशान पर बटन दबाने का मतलब है, बलात्कारियों को फांसी की सज़ा. कमल के निशान पर बटन दबाने का मतलब है, हर घर शौचालय, हर घर में पानी की सुविधा.

ये भी पढ़ें- 

ANALYSIS: लोकसभा चुनाव का अंतिम चरण: वोट कटवा से आगे बढ़ पाएगी कांग्रेस?

लोकसभा चुनाव 2019: सैनिकों का ये गांव तय करेगा गाजीपुर की सियासी रुख

MJPRU UG & PG Result 2019: यूजी और पीजी के रिजल्‍ट घोषित, mjpru.ac.in पर ऐसे देखें स्‍कोर

गाजियाबाद समेत यूपी के 7 रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी, अलर्ट जारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज