होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /MIRZAPUR: लोन के लिए सूदखोरों के नहीं लगाने होंगे चक्कर, पीएम स्वनिधि योजना से मिलेगी मदद

MIRZAPUR: लोन के लिए सूदखोरों के नहीं लगाने होंगे चक्कर, पीएम स्वनिधि योजना से मिलेगी मदद

रेहडी-पटरी दुकानदारों को नहीं लगाना पड़ेगा चक्कर

रेहडी-पटरी दुकानदारों को नहीं लगाना पड़ेगा चक्कर

Eligible for Loan: जिन लोगों ने कभी कोई ऋण लिया ही नहीं, वे भी इस योजना का लाभ लेने के लिए अप्लाई कर सकते हैं. लेकिन उन ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट : मंगला तिवारी

    मिर्जापुर. सड़क की पटरियों, फुटपाथ आदि पर दुकान इत्यादि लगाकर अपने व परिवार का जीविकोपार्जन करने वाले रेहड़ी-पटरी दुकानदारों को अब पूंजी के लिए साहूकारों, सूदखोरों का चक्कर नहीं लगाना होगा. इनके लिए प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना मददगार साबित हो रही है. इसी योजना के जरिए रेहड़ी-पटरी दुकानदार 10,000 से लेकर 50,000 तक ऋण प्राप्त कर अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं. नगरी इलाके के दुकानदार खासकर पटरी दुकानदारों के साथ ही फेरी लगानेवाले, सैलून, सिलाई-कढ़ाई से लेकर माला-फूल बेचनेवाले लोग भी इस योजना से लाभान्वित हो सकते हैं.

    मिर्जापुर जनपद में प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत कम से कम 3997 लोगों को लाभ देने का लक्ष्य मिला था. इस लक्ष्य के मुकाबले 4300 से ज्यादा लोगों को इसका लाभ दिया जा चुका है. गौरतलब है कि इस योजना का लाभ उन्हीं को मिलेगा, जिन्होंने 20,000 रुपए का ऋण लेने के बाद उसे तय समय पर चुकता किया है. जिन लोगों ने कभी कोई ऋण लिया ही नहीं, वे भी इस योजना का लाभ लेने के लिए अप्लाई कर सकते हैं. लेकिन उन्हें सिर्फ 10 हजार रुपए ही लोन मिलेगा.

    मिर्जापुर नगर में 24 लोग ऐसे बताए जा रहे हैं, जिन्होंने 20 हजार रुपए का ऋण लेने के बाद उसे तय समय पर चुकता कर दिया, जबकि 235 लोग ऐसे हैं जिन्हें पहली बार 10000 रुपए का ऋण दिया जाएगा. बता दें कि जिन्होंने पहले 10 हजार का ऋण लेकर समय पर चुकता कर दिया है वे अब 20,000 रुपए के ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं, जबकि 20,000 का ऋण चुका चुके लोग अब वह 50 हजार का ऋण प्राप्त कर सकते हैं. इस योजना का लाभ ऑनलाइन प्रदान किया जाएगा.

    नगर पलिका परिषद मिर्जापुर के अधिशासी अधिकारी अंगद गुप्ता के मुताबिक, पहली बार नगर क्षेत्र से 235 लोगों को 10,000 का ऋण दिया जाएगा. इसके लिए पालिका कार्यालय में 2 पासपोर्ट साइज फोटो, आधार कार्ड और बैंक पासबुक की फोटो कॉपी नगर पालिका कार्यालय में जमा कर आवेदन कर सकते हैं. उन्होंने बताया है कि आवेदक को अपने साथ अपना मोबाइल फोन लाना अनिवार्य हो होगा, क्योंकि आवेदन से संबंधित वन टाइम पासवर्ड यानी ओटीपी संबंधित मोबाइल नंबर पर जाएगा.

    बताते चलें की मिर्जापुर नगर पालिका क्षेत्र में रेहड़ी और पटरी दुकानदारों की संख्या हजारों में है. इनमें से अधिकांश दुकानदार अपने कारोबार के लिए सूदखोरों के मकड़जाल में फंस जाते हैं, जिन्हें मूल से ज्यादा सूद देना पड़ जाता है. ऐसे में पीएम स्वनिधि योजना ऐसे लोगों के लिए काफी मददगार साबित हो रही है. कचहरी के समीप फल का दुकान लगाने वाले मनीष सोनकर की माने तो उन्होंने पहले 10 रजार रुपए का ऋण लिया था. जिसके जरिए उन्हें अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए काफी सहूलियत मिली है.

    Tags: Business loan, Mirzapur news, UP news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें