अपना शहर चुनें

States

महागठबंधन की जनसभा में नहीं जुटे लोग, खाली कुर्सियों के सामने बोलते रहे अखिलेश

अखिलेश की हताशा का कारण थीं खाली पड़ी कुर्सियां. 50 हज़ार की क्षमता वाले ग्राउंड में मात्र 10 हज़ार के करीब ही भीड़ जुट पाई थी.

  • Share this:
एक तरफ लोकसभा चुनाव में रविवार को छठे चरण में मतदान हुए वहीं दूसरी तरफ अखिलेश यादव चुनाव प्रचार में अपना पूरा दमखम लगा रहे हैं. महागठबंधन के लिए वोट मांगने मिर्जापुर पहुंचे अखिलेश काफी निराश हुए. अखिलेश की हताशा का कारण थीं खाली पड़ी कुर्सियां. 50 हज़ार की क्षमता वाले ग्राउंड में मात्र 10 हज़ार के करीब ही भीड़ जुटी पाई थी.

गर्मी के कारण नहीं जुटी भीड़  

हालांकि कार्यकर्ताओं ने भीड़ ना जुटने का कारण गर्मी को बताया. कड़ी घूप में लोग छांव खोजते नजर आ रहे थे. आपको बता दें कि सपा उम्मीदवार रामचरित निषाद के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित करने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और जयंत चौधरी पहुंचे थे. इस दौरान अखिलेश ने सभा को संबोधित करते हुए मोदी और योगी पर बड़ा हमला किया.



'दिल्ली में एक चौकीदार है और लखनऊ में ठोकीदार'
राजकीय इंटर कालेज महुहरिया में आयोजित की गई जनसभा में अखिलेश यादव ने कहा कि दिल्ली में एक चौकीदार है और लखनऊ में ठोकीदार है. साथ ही योगी आदित्यनाथ पर तंज करते कहा अगर संविधान न होता तो आप मठ में बैठ के घंटा बजा रहे होते. आगे कहा कि जब चाय ही खराब है तो क्या करोगे कप प्लेट का. साजिश में कप प्लेट वाले भी शामिल हैं, हम अगर महमिलावट है तो आप कौन से मिलावट है.

यह ही पढ़ें- मिर्जापुर में बोले अखिलेश यादव- मुख्यमंत्री योगी से मिलने आया था 'वो' सांड
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज