UPSC सिविल सेवा परीक्षा 2019: तीसरे प्रयास में मिर्जापुर के सौरभ पांडेय बने आईएएस
Mirzapur News in Hindi

UPSC सिविल सेवा परीक्षा 2019: तीसरे प्रयास में मिर्जापुर के सौरभ पांडेय बने आईएएस
तीसरे प्रयास में मिर्जापुर के सौरभ पांडेय बने आईएएस

सौरभ (Saurabh) ने बताया कि माता- पिता के सपोर्ट के बिना यह संभव नहीं था. इसके अलावा कड़ी मेहनत का कोई विकल्‍प नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 4, 2020, 8:30 PM IST
  • Share this:
मिर्जापुर. संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने सिविल सेवा परीक्षा-2019 का फाइनल रिजल्ट जारी कर दिया है. परीक्षा में मिर्जापुर (Mirzapur) के रहने वाले सौरभ पांडेय (Saurabh Pandey) ने 66वीं रैंक हासिल करके जिले का नाम रोशन किया है. उनके आईएएस (IAS) बनने पर घर में खुशी का माहौल है. उन्होंने इसका पूरा श्रेय अपने माता-पिता को दिया है. परीक्षा परिणाम के आने पर वह अपने घर पर ही थे. इनके पिता कमलाकर पांडेय भारतीय जीवन बीमा निगम (सोनभद्र) में मैनेजर के पद पर तैनात हैं.

मिर्जापुर शहर के विशालपुरी कॉलोनी के रहने वाले सौरभ ने सिविल सर्विस तीसरी बार में पास की है. जैसे ही उन्होंने अपने सफल होने की जानकारी परिवार को बताया पूरे घर में खुशियां छा गई. मां ने बेटे की सफलता पर उन्हें मिठाई खिला कर मुंह मीठा करवाया.

ये भी पढे़ं- राम मंदिर भूमि पूजन: सीएम आवास में दीपोत्सव, योगी ने दीये जलाकर मनाई खुशी



दरअसल सौरभ इससे पहले दो बार सिविल सर्विस परीक्षा का मेंस दे चुके थे, मगर सफलता नहीं मिली. तीसरी बार की परीक्षा में सफलता मिली हैं. सौरभ ने बताया कि माता- पिता के सपोर्ट के बिना यह संभव नहीं था. इसके अलावा कड़ी मेहनत का कोई विकल्‍प नहीं है. सौरभ कहते हैं कि समसामयिक मामलों की जानकारी के लिए वह अखबारा रोजाना पढ़ते थे.
कुल 829 उम्मीदवारों का चयन
बता दें इस बार कुल 829 उम्मीदवारों का चयन किया गया है. इसमें 304 उम्मीदवार जनरल कैटेगरी से, 78 ईडब्ल्यूएस, 251 ओबीसी, 129 एससी और 67 एसटी कैटेगरी से हैं. आयोग के अनुसार परीक्षार्थियों के मार्क्स 15 दिन बाद जारी किए जाएंगे. यूपीएससी ने 182 उम्मीदवारों को रिजर्व लिस्ट में रखा है, इनमें 91 जनरल, 9 ईडब्ल्यूएस, 71 ओबीसी, 8 एससी, 3 एसटी कैटेगरी के हैं. 11 उम्मीदवार ऐसे हैं जिनका रिजल्ट होल्ड पर रखा गया है.

कोरोना के चलते इंटरव्यू स्थगित हुए थे
यूपीएससी मुख्य परीक्षा में कुल 2304 उम्मीदवार सफल हुए थे. इनके लिए इंटरव्यू की प्रक्रिया 17 फरवरी, 2020 से शुरू हुई थी लेकिन कोरोना लॉकडाउन के चलते मार्च में इंटरव्यू स्थगित कर दिए गए थे. इंटरव्यू 20 जुलाई से 30 जुलाई के बीच आयोजित किए गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज